शिक्षा/प्रौधोगिकी

जवाहरलाल नेहरू विधि महाविद्यालय, मंदसौर में हमारा संविधान विषय पर कार्यक्रम आयोजित हुआ

संविधान देश की सर्वोच्च विधि है – प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अजीत सिंह

 मन्दसौर। मध्य प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर द्वारा प्रसारित वार्षिक कार्य योजना वर्ष 2023- 24 के अनुपालन तथा प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश/ अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर श्रीमान अजीत सिंह महोदय के मार्गदर्शन एवं जिला न्यायाधीश/ सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर श्रीमान हर्ष सिंह बहरावत साहब के निर्देशन में संविधान दिवस के उपलक्ष में दिनांक 25 नवंबर 2023 को जवाहरलाल नेहरू विधि महाविद्यालय, मंदसौर में हमारा संविधान विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए माननीय प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमान अजीत सिंह महोदय ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि संविधान देश की सर्वोच्च विधि है और इसमें वर्णित मूल अधिकार तथा मूल कर्तव्य हमारे अधिकारों के संरक्षण का कार्य करते आए हैं। कोई भी व्यक्ति या संस्था संविधान से ऊपर नहीं है। संविधान निर्माताओं के सपनों के राष्ट्र का निर्माण करने हेतु हम सभी को अपने कर्तव्यों का पूर्ण रूप से निर्वहन करना होगा ।आज का दिन एक अवसर है जब हम सभी  सामूहिक शपथ लें कि हम सब देश के संविधान एवं कानून का सदैव सम्मान एवं पालन करेंगे। इस अवसर पर माननीय प्रधान जिला न्यायाधीश महोदय ने उपस्थित विद्यार्थियों को संविधान की प्रस्तावना का सामूहिक वाचन भी कराया और साथ ही उन्होंने विधि विद्यार्थियों की विभिन्न कानूनी जिज्ञासाओं के उत्तर भी दिए । जवाहरलाल नेहरू विधि महाविद्यालय की तरफ से माननीय प्रधान जिला न्यायाधीश महोदय को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। जिला न्यायाधीश/ सचिव,जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर श्री हर्ष सिंह बहरावत ने अपने उद्बोधन में उपस्थित विद्यार्थियों से कहा कि वे संविधान में अपनी निष्ठा सदैव बनाए रखें।

                  कार्यक्रम की अध्यक्षता विधि महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ कुणाल शक्तावत द्वारा की गई। कार्यक्रम का संचालन प्राध्यापक डॉ दिनेश तिवारी एवं आभार प्रो प्रवीण चौधरी द्वारा किया गया। इस अवसर पर प्रो राजेश कौशिक , प्रो रुचि चौहान , प्रो  हेमलता , प्रो चंचल शर्मा ,प्रो राजेश नोगिया ,प्रो ईश्वर प्रजापत ,प्रो करण आर्य, प्राध्यापक गण एवं विद्यार्थी गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *