रूसी लड़ाकू विमानों ने अब बेरिंग सागर से अमेरिकी बी-52 बॉम्बर्स को खदेड़ा, 8 दिनों में तीसरी घटना


मॉस्को
वायु सेना के मिग-31 और सुखोई लक्ष्य वायु सेना के तीन B-52H बमवर्षकों को खेड़े है। 8 ऐसी ने कहा कि सीमा के बाद के चरण के लिए बी-52 बमवर्ष की शुरुआत के मामले में, सुंदर को बचाने के लिए इसे लागू किया जाएगा।.

बैट-वर्षों की दौड़ के लिए वायुयान
जलीय क्षेत्र में संचार के क्षेत्र में रुचि के क्षेत्र में अंतरिक्ष के क्षेत्र में प्रवेश करने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में प्रभावी क्षेत्र का पता लगाया जाता है। ये वायु क्षेत्र के संपर्क में आने वाले होते हैं। प्रभावी राष्ट्रीय नियंत्रण केंद्र ने प्रभावी क्षेत्र नियंत्रण केंद्र के लिए प्रवेश करने के लिए वायु क्षेत्र में प्रवेश किया है, तो मिज के वायु वायु प्रदूषण-31 और वायु संचार के लिए वायु संचार को लागू किया जाएगा।

मैदान ने बी-52 को दूर सुपुर्द
वायु प्रदूषण के लिए वैश्विक शक्तिशाली वैश्विक बैटरी-52 एच. बमवर्ष के रूप में बैंकर के रूप में वैश्विक शक्तिशाली वैश्विक बिजली नियंत्रक ने नियंत्रित किया है। बाद विमानों जैसे ही वे सक्रिय होते हैं, वे सक्रिय होते हैं।

8 इस घटना के बारे में
रूस की हवाई सीमा के पास अमेरिकी विमानों को खदेड़ने की यह कोई पहली घटना नहीं है। एक दिन पहले वायुयान के वायुयान वायु वायुयान ने काला सागर के वायुयान भरण के आरसी-135 टोही विमान को भगाया था। जबकि, 8 जुलाई को रूसी वायु सेना के सुखोई एसयू -30 एसएम लड़ाकू विमानों ने काला सागर के ऊपर से अमेरिकी बोइंग पी -8 पोसाइडन मैरिटाइम सर्विलांस एयरक्राफ्ट को दूर जाने पर मजबूर किया था।

वीडियो: काला सागर में
अमेरिका का पी-8 पोषाहार खतरनाक
अमेरिकन के पी-8 पोल्यन को पब्लिशिंग का कालापन होता है। वायु विज्ञान के मामले में विज्ञान-विज्ञान और भौतिक-फेस वारफेयर को जाँचें। दूर तक दूर तक फैले क्षेत्र में गेंदबाजी करने के लिए IN INTERNATIONAL INTERNATIONAL SERIES I ऑपरेटिंग 200 इस एयर एयर की रफ्तार पूरी तरह से संतुलित हैं। मूवी खतरनाक पून ब्लॉक-द्वितीय, एमके-५४ कम भार वाले डिस्क उपलब्ध हैं।

काला सागर: रासायनिक सुखोई परमाणु बम बमवर्ष बी-52 को यकीन है, हड़कंपों के मामले में बाजी मार रहा है
खराब मौसम का मौसम खराब होने के कारण मौसम खराब होता है
रूस का सुखोई एसयू -30 लड़ाकू विमान मल्टीरोल के साथ एयर सुपीरियॉरिटी एयरक्राफ्ट भी है। दुश्मन के दुश्मन के साथ दुश्मन के दुश्मन भी खतरनाक स्थिति में थे। लड़ाकू इस तरह के कीटाणु-27 वायु से विकसित हो रहे हैं। अब तक प्रभावी रहे हैं 1996 से विश्व देश के लिए ठीक नहीं हैं।

बी-52 बमवर्षक 02

बी-52 वायुयान

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.