CBSE Term 2 Exam 2022: मैथ्स में चाहिए बेहतर नंबर तो इन टिप्स की मदद से करें तैयारी


26 अप्रैल 2022 से शुरु होने वाली टर्म 2 सीबीएसई 2022 परीक्षा (CBSE Exam 2022) के लिए 10वीं और 12वीं दोनों के छात्रों ने कमर कस ली है और अलग-अलग तरीकों से तैयारी में जुट गये हैं। बोर्ड परीक्षा विद्यार्थी की सबसे पहले प्रतियोगी परीक्षा होती है जिसकी तैयारी करने के लिए छात्र कई महीनों तक मेहनत करते हैं। लेकिन मैथ्स का पेपर ऐसा होता है जिसकी तैयारी सभी करते हैं लेकिन कई छात्र अच्छे अंक प्राप्त करने से चूक जाते हैं। इसी कारण छात्र अक्सर इसे सबसे कठिन विषय मानते हैं और इससे बचना चहते हैं।

लेकिन अगर इस विषय की तैयारी बेहतर ढ़ंग से की जाए तो यह विषय सबसे अधिक स्कोरिंग विषय हो सकता है। बस जरूरत है बाकी विषयों के मुकाबले तैयारी में कुछ अलग करने की। आइये इस आर्टिकल में जानते हैं कि 12वीं के छात्र कैसे मैथ्स परीक्षा की तैयारी आसानी से कर सकते हैं और इसमें अच्छे नंबर भी पा सकते हैं।

1. एनसीईआरटी पर करें फोकस
NCERT बुक छात्रों की सारी जरूरतों का आधार है। इसी कारण छात्रों को ये सलाह दी जाती है कि एनसीईआरटी की किताब के प्रत्येक प्रश्न को अच्छी तरह से पढ़ें। इसके साथ ही किताब में दिए गए सॉल्वड प्रश्नों के उदाहरण को पढ़ना भी उतना ही जरूरी है। एनसीईआरटी सिर्फ पूरे टर्म 2 के सिलेबस को पढ़ने के लिए पर्याप्त हैं, बल्कि विषयों की मूल बातों को आसानी से समझने के लिए भी पर्याप्त हैं।

2. टाइम वरीयता के आधार पर बाटें

मैथ्स की परीक्षा में सफल होने के लिए टाइम मैनेजमेंट सबसे जरूरी कुंजी है। छात्र को हर प्रश्न के वेटेज के अनुसार टाइम देना चाहिए। इसके लिए छात्रों को लगातार मॉक टेस्ट और पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों को सॉल्व करना सबसे जरूरी हो जाता है ताकि टाइम मैनेजमेंट की प्रक्रिया को बरकरार रखा जा सके।

3. हल करें, चेक करें और दोहराएं

मैथ्स के फॉर्मुले केवल बार बार प्रैक्टिस करने से ही सीखे जा सकते हैं। छात्रों को मैथ्स की तैयारी के दौरान सिलेबस में दिए गए विषयों की बार-बार प्रैक्टिस करनी चाहिए। सॉल्व करें गलत हो तो दोबारा ठीक कर के सॉल्व करें। ऐसा करने से मैथ्स में फुल मार्क्स से कोई नहीं रोक सकता।

4. फॉर्मूले की सूची बनाएं

मैथ्स सूत्र यानी फॉर्मूले पर आधारित होती है जिसे याद रखना बेहद जरूरी होता है। लेकिन अक्सर छात्र परीक्षा हॉल में ही फॉर्मूला भूल जाते हैं इसी करण छात्रों को यह सुझाव दिया जाता है कि तैयारी के समय ही सभी सूत्रों की एक सूची बना लें और हर समय उसे पढ़ते रहें।

Attorney General Of India: जानें अटॉर्नी जनरल ऑफ इंडिया का कार्य, शक्तियां, दायित्व और सैलरी

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.