Rs 1000 token amount allocated in budget for Jabalpur Indore rail line project via Budhni- फिर जिंदा हुई Jabalpur Indore Rail Line, बजट में मिली 1 हजार की शगुन राशि, DPR जल्द, जानें सबकुछ – News18 हिंदी


जबलपुर. केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने 7500 करोड़ रुपये की परियोजना के लिए बजट में एक हजार रुपये का प्रावधान किया है. ये प्रावधान जबलपुर-इंदौर वाया बुधनी रेल परियोजना के लिए किया गया है. इस परियोजना के जानकारों का कहना है कि तीन साल बाद ही सही, वित्त मंत्रालय ने फाइलों में दफ्न रेल परियोजना में जान फूंक दी है.

जानकारों का कहना है कि बजट में भले ही परियोजना के लिए मात्र एक हजार रुपए की धनराशि का प्रावधान किया गया है, लेकिन इस शगुन राशि से यह तय हो गया है कि जबलपुर-इंदौर रेल लाइन (गाडरवारा-इंदौर) का प्रस्ताव अभी जीवित है और आने वाले समय में इस महत्वाकांक्षी परियोजना पर काम शुरू किया जाएगा.

2016-17 में हुई थी परियोजना की घोषणा

गौरतलब है कि 7500 करोड़ रुपये की जबलपुर-इंदौर वाया बुधनी रेल परियोजना की घोषणा वर्ष 2016-17 के बजट में की गई थी. उसी समय डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (DPR) डीपीआर पर काम करने की बात कही गई थी. रेल मंत्रालय की एजेंसी रेल विकास निगम ने शुरूआती दौर की  रिपोर्ट भी पेश कर दी थी. इसमें कहा गया था कि राज्य सरकार के सहयोग से जबलपुर-इंदौर रेल लाइन को अंजाम तक पहुंचाया जाएगा, लेकिन उसके बाद फिर नई रेल लाइन पर कोई चर्चा न हो सकी.

नए सिरे से करना होगा विचार

बताया जाता है कि इस परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण को लेकर कई तरह की परेशानियां सामने आ रही थीं. अब नए सिरे से डीपीआर बनेगी और भूमि के अधिग्रहण की योजना पर विचार किया जाएगा. फिलहाल इस परियोजना में बुधनी से इंदौर मार्ग पर काम जारी है, लेकिन जबलपुर से गाडरवारा होते हुए बुधनी का काम शुरू नहीं हो पाया है. आमजनों का कहना है कि जबलपुर से इंदौर तक गाडरवारा होकर जाने वाली नई रेल लाइन से सफर तो आसान हो ही जाएगा, साथ ही व्यापार और कारोबार को भी गतिशीलता मिलेगी. इस रेल लाइन का निर्माण पीपीपी के तहत किया जाना है. बजट में इसकी चर्चा होने से लोगों को नई रेल लाइन को लेकर उम्मीद जागी है.

इस रेल परियोजना की झलकियां

  • यह रेल परियोजना कुल 7500 करोड़ रुपए लागत की है. फिलहाल इस परियोजना में 205 किलोमीटर का ट्रैक स्वीकृत है.
  • इस रेल परियोजना में कुल 61 बड़े ब्रिज और 77 मिनी ब्रिज होंगे. इस रेल लाइन में कुल 18 स्टेशन होंगे, जिनमें 6 पर हॉल्ट होगा.
  • इस परियोजना के मद्देनजर 14 सौ हेक्टेयर भूमि अधिग्रहित की जानी है. इस परियोजना में दो वाय डक्ट होंगे.
  • इस योजना अंतर्गत 5- 5 किलोमीटर के 2 टनल भी बनाई जाएंगी. व्यापार और कारोबार को भी गतिशीलता मिलेगी.
  • करीब 84 किमी का सफर कम हो जाएगा. गाडरवारा से इंदौर तक नई रेल लाइन बिछाने की लंबाई करीब 342 किलोमीटर होगी.
  • जबलपुर से इंदौर की दूरी 554 किलो मीटर की दूरी 471 रह जाएगी. तकरीबन 2 घंटे का सफर कम होगा.
  • अभी यह सफर पूरा करने में ट्रेन को करीब 10 घंटे लगते हैं.  इसके बाद यह अवधि करीब 8 घंटे रह जाएगी. इसके साथ ही इंदौर जाने वाले यात्रियों को नया मार्ग मिल जाएगा.

आपके शहर से (जबलपुर)

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

Tags: Indian Railways, Irctc, Jabalpur news, Mp news

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.