Pro Kabaddi League Highlights: पुणेरी की पलटन पर भारी पड़े यूपी के योद्धा, बंगाल ने भी नहीं खुलने दिया तेलुगू का खाता


बेंगलुरु. सुरेंदर गिल के शानदार प्रदर्शन से यूपी योद्धा ने प्रो कबड्डी लीग (PKL) के मैच में पुणेरी पलटन (puneri paltan) को 50-40 से हरा दिया. इस जीत के साथ यूपी पॉइंट टेबल में टॉप 4 में पहुंच गई है. दिन के एक अन्‍य मुकाबले में बंगाल वॉरियर्स ने तेलुगू टाइटंस को 1 अंक के करीबी अंतर से हराया. बंगाल ने मौजूदा सीजन की अपनी 5वीं जीत दर्ज की जबकि टाइटंस का अभी तक खाता ही नहीं खुल पाया है.

पुणेरी पलटन और यूपी योद्धा (UP Yoddha) के बीच खेले गए मुकाबले की बात करें तो रेडर गिल ने 21 अंक बनाये, जबकि प्रदीप नारवाल (10 अंक) ने यूपी योद्धा के लिये सुपर-10 का स्कोर बनाया. यूपी योद्धा ने हालांकि रक्षण में कई गलतियां भी की, लेकिन आखिर में वह मैच जीतने में सफल रही. पुणे की टीम का भी रक्षण अच्छा नहीं रहा. उसकी तरफ से असलम इनामदार और मोहित गोयत ने सुपर-10 का स्कोर बनाया लेकिन रक्षकों के लचर खेल के कारण उनके प्रयास बेकार चले गये.

दूसरे हाफ में यूपी ने बनाई बढ़त 

पहला हाफ 20-20 की बराबरी पर समाप्त हुआ, लेकिन यूपी योद्धा ने दूसरे हाफ में बेहतर खेल दिखाया और आखिर में 10 अंक के अंतर से जीत दर्ज करने में सफल रहा. दिन के एक अन्य रोमांचक मुकाबले में बंगाल वॉरियर्स ने तेलुगु टाइटंस पर 28-27 से करीबी जीत दर्ज की. बंगाल की यह 5वीं जीत है और वह सातवें स्थान पर पहुंच गया है. टाइटंस को 8वीं हार का सामना करना पड़ा.

लक्ष्य सेन ने इंडिया ओपन जीतने के एक दिन बाद किया बड़ा फैसला, इस टूर्नामेंट में नहीं उतरेंगे

Asia Cup 2022 के लिए भारतीय हॉकी टीम तैयार, वर्ल्ड कप में जगह बनाने पर नजर

अंकतालिका की बात करें तो यूपी टीम के 11 मैचों में 4 जीत और 3 ड्रॉ के साथ 33 अंक हो गए हैं जो अब चौथे नंबर पर है. बंगाल टीम अंकतालिका में 7वें स्थान पर पहुच गई है. बंगाल ने 11 मैचों में अपनी 5वीं जीत दर्ज की जिसके अब 30 अंक हो गए हैं. वहीं, पुणेरी पलटन 21 अंकों के साथ 10वें स्थान पर है. तेलुगू टाइटंस का अभी तक जीत का खाता नहीं खुल पाया है और वह 12 टीमों की तालिका में सबसे निचले पायदान पर है.

Tags: Bengal Warriors, PKL-8, Pro Kabaddi League, Pro Kabaddi News, Puneri paltan, Telugu titans, Up yoddha

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.