Russian Vacuum Bomb: यूक्रेन में क्लस्टर और वैक्यूम बम के साथ लड़ रही पुतिन की सेना, जानें कितने खतरनाक हैं ये विनाशकारी हथियार


कीव : यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की ने सोमवार को रूस पर ‘युद्ध-अपराध’ के आरोप लगाए। माना जा रहा है कि हमले के पांचवें दिन पुतिन की सेना ने अपनी बर्बर कार्रवाई में क्लस्टर और वैक्यूम बम का इस्तेमाल किया। देर रात रूस के लिए अपने संबोधन में जेलेंस्की ने कहा कि सभी नियमों के उल्लंघन की जांच अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में होनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘शांतिपूर्ण यूक्रेनियों की हत्या के लिए दुनिया में कोई भी तुम्हें माफ नहीं करेगा।’

खारकीव में घुसी रूसी सेना को स्थानीय विरोध का सामना करना पड़ा था जिन्होंने उनके सैन्य वाहनों में आग लगा दी थी। इसके 24 घंटे बाद पुतिन ने खारकीव पर बम बरसाने का आदेश दे दिया। रूस की सेना ने खारकीव पर कब्जा करने के लिए भीषण हथियारों का इस्तेमाल किया। यह शहर रूस-यूक्रेन सीमा से सिर्फ 40 किमी की दूरी पर स्थित है और इसकी आबादी करीब 15 लाख है। बम, रॉकेट और मोर्टार से किए गए हमलों में 11 लोगों के मरने की खबर है, जिसमें तीन बच्चे भी शामिल हैं।
Russia Ukraine Latest News : रूसी सेना यूक्रेन में बंद पड़े परमाणु कचरों पर बरसा रही मिसाइलें, अब कीव में रेडिएशन फैलने का खतरा
क्लस्टर बमों का इस्तेमाल करना है अपराध
तस्वीरों में खारकीव के घरों और एक स्कूल को जलते हुए देखा जा सकता है। डेलीमेल से बात करते हुए एक सैन्य सूत्र ने कहा कि वीडियो से पता चलता है कि रूस ने क्लस्टर बमों का इस्तेमाल किया था जिनका इस्तेमाल करना अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत अवैध है। रिपोर्ट के मुताबिक एक्सपर्ट ने कहा कि BM-21 Grad एक मल्टीपल लॉन्च रॉकेट सिस्टम होता है जिसका इस्तेमाल किसी बड़े क्षेत्र पर हमला करने के लिए किया जाता है। इसी की मदद से क्लस्टर बमों को दुश्मन के इलाके में गिराया जाता है।

‘वैक्यूम बम का इस्तेमाल निषेध’
उन्होंने कहा कि मुख्य रूप से इसका इस्तेमाल दुश्मन सैनिकों पर किया जाता है। आम नागरिकों पर इसका इस्तेमाल न सिर्फ युद्ध अपराध है बल्कि इसका मकसद रिहायशी इलाकों में आतंक और खौफ फैलाना है। सोमवार को अमेरिका में यूक्रेन के राजदूत ने दावा किया कि रूस ने यूक्रेन पर हमला करने के लिए वैक्यूम बम का इस्तेमाल किया। अमेरिकी कांग्रेस के खिलाफ बोलते हुए ओक्साना मार्करोवा ने कहा कि उन्होंने आज वैक्यूम बम का इस्तेमाल किया, जिसका इस्तेमाल जिनेवा सम्मेलन के तहत निषेध है।
Putin Nuclear Weapons: पुतिन के पास है 4 हजार परमाणु बमों का जखीरा, 20 मिनट में ब्रिटेन को कर सकते हैं तबाह
शरीर को भाप बना देता है वैक्यूम बम
रूस यूक्रेन में बहुत बड़े स्तर पर तबाही मचाने की कोशिश कर रहा है। वैक्यूम बमों को थर्मोबेरिक हथियारों के रूप में जाना जाता है। इनके विस्फोट से इतनी अधिक मात्रा में ऊर्जा और ताप निकलता है कि शरीर भाप बन जाता है। ये वातावरण में मौजूद ऑक्सीजन का इस्तेमाल उच्च तापमान वाले विस्फोट के लिए करते हैं। वैक्यूम बम सबसे खतरनाक गैर-परमाणु हथियारों में से एक है। इसी तरह क्लस्टर बमों को भी सबसे विनाशकारी हथियारों में गिना जाता है।

क्या होता है क्लस्टर बम?
क्लस्टर बम दरअसल कई बमों का एक गुच्छा होता है। इन बमों को फाइटर जेट्स की मदद से गिराया जाता है। एक ही क्लस्टर बम में कई बम गुच्छे के रूप में होते हैं। इनकी खास बात यह है कि दागे जाने के बाद क्लस्टर बम अपने भीतर के बमों को गिराने से पहले हवा में मीलों तक उड़ सकते हैं। ये विनाशकारी बम जिस जगह पर गिरते हैं, वहां 25 से 30 मीटर के दायरे में भयानक तबाही मचा सकते हैं।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.