GDP Data: अनुमान से कम इकोनॉमी की रफ्तार, तीसरी त‍िमाही में 5.4 फीसदी पर आई


नई द‍िल्‍ली : मौजूदा फाइनेंश‍ियल ईयर की तीसरी त‍िमाही (अक्टूबर से दिसंबर) के दौरान देश का जीडीपी ग्रोथ रेट (GDP Growth Rate) 5.4 प्रतिशत रहा. सरकार के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) की तरफ से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि दर 0.7 प्रतिशत थी.

2020-21 में 6.6 % की गिरावट आई थी

NSO के दूसरे अग्रिम अनुमान के अनुसार, वित्त वर्ष 2021-22 में GDP वृद्धि दर 8.9 प्रतिशत रहने की उम्‍मीद है. जनवरी में जारी पहले अग्रिम अनुमान में मौजूदा वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 9.2 प्रतिशत रहने की संभावना जताई गई थी. जबकि 2020-21 में इसमें 6.6 प्रतिशत की गिरावट आई थी.

यह भी पढ़ें : होली से पहले Railway का बड़ा कदम, कल से चलेंगी 46 ट्रेनें; आपके रूट की कौन सी?

दूसरी तिमाही में 8.5 प्रतिशत थी वृद्धि दर

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में तुलनात्मक आधार कमजोर होने से अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 20.3 प्रत‍िशत रही थी. दूसरी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 8.5 प्रतिशत थी. गौरतलब है क‍ि चीन की आर्थिक वृद्धि दर अक्टूबर-दिसंबर, 2021 तिमाही में चार प्रतिशत रही है.

यह भी पढ़ें : बढ़ती महंगाई के बीच एक और झटका, Amul दूध इतने रुपये हुआ महंगा

खास बात यह है क‍ि जीडीपी के ताजा आंकड़े तमाम अनुमान से नीचे हैं. अलग-अलग एजेंसियों की तरफ से 5.4 प्रत‍िशत से ज्‍यादा का अनुमान जताया गया था. चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में तुलनात्मक आधार कमजोर होने से अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 20.3 प्रतिशत रही थी.

ब‍िजनेस की अन्‍य खबरें पढ़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.