Gold-Silver Price Today: यूक्रेन-रूस संकट से सोने-चांदी को मिला दम, कई महीने के रेकॉर्ड स्तर पर पहुंची कीमत


नई दिल्ली: यूक्रेन में संकट गहराने से सोने और चांदी की कीमत में आज काफी तेजी दिख रही है। पश्चिमी देशों ने रूस पर कई प्रतिबंध लगा दिए हैं और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने अपनी न्यूक्लियर विंग को एक्टिवेट कर दिया है। इससे सोने की कीमत में आज 1.5 फीसदी से अधिक तेजी आई। सोने को इस तरह के भूराजनीतिक तनाव में सुरक्षित निवेश माना जाता है और यही वजह है कि निवेशक फिर से सोने का रुख करने लगे हैं।

MCX पर अप्रैल डिलिवरी वाला सोना 12.45 बजे 734 रुपये की तेजी के साथ 50,955 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। पिछले सत्र में यह 50,221 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर चल रहा था और आज 50880 रुपये के भाव पर खुला। सुबह के कारोबार के दौरान यह 51,211 रुपये तक गया। चांदी भी 1062.00 रुपये की तेजी के साथ 65,085.00 रुपये प्रति किलो के भाव पर ट्रेड कर रही है। कारोबार के दौरान इसका भाव 65,341 रुपये तक गया।

क्यों बढ़ रही है कीमत
सोना पिछली तीन तिमाहियों में सबसे बेहतर मासिक प्रदर्शन की ओर अग्रसर है। जानकारों का कहना है कि शॉर्ट टर्म में सोने की कीमत और ऊपर जा सकती है। ShareIndia के वाइस प्रेजिडेंट और हेड ऑफ रिसर्च रवि सिंह ने कहा कि अगर नाटो की तरफ से कुछ सैन्य कार्रवाई होती है तो इससे रूस-यूक्रेन लड़ाई और तेज हो सकती है। एक बार फिर फोकस महंगाई, कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों, यूएस फेड की मीटिंग और दुनियाभर के केंद्रीय बैंकों के ब्याज दर बढ़ाने की आशंका पर शिफ्ट हो गया है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में स्पॉट गोल्ड की कीमत 1.2 फीसदी की तेजी के साथ 1,909.89 डॉलर प्रति ओंस पहुंच गई है। अमेरिका में गोल्ड फ्यूचर 1.1 फीसदी की तेजी के साथ 1,908.30 डॉलर पर पहुंच गया। कारोबार के दौरान इसमें 2.2 फीसदी की तेजी आई और यह सितंबर 2020 की कीमतों के करीब पहुंच गया। इस बीच पैलेडियम की कीमत 5.9 फीसदी उछलकर 2,506.55 डॉलर पहुंच गई। पिछले हफ्ते इसकी कीमत 2,711.18 डॉलर पहुंच गई जो जुलाई 2021 के बाद इसका उच्चतम स्तर है।

कारोबार जगत के 20 से अधिक सेक्टर से जुड़े बेहतरीन आर्टिकल और उद्योग से जुड़ी गहन जानकारी के लिए आप इकनॉमिक टाइम्स की स्टोरीज पढ़ सकते हैं। इकनॉमिक टाइम्स की ज्ञानवर्धक जानकारी पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.