Balakot Airstrike : बालाकोट की पिटाई भूल गया पाकिस्तान, तीसरी बरसी पर इमरान खान भारत को जंग की धमकी दे रहे


इस्लामाबाद: पाकिस्तान बालाकोट एयरस्ट्राइक (Balakot Airstrike) में पड़ी मार को पूरी तरह से भूल चुका है। यही कारण है कि इमरान खान (Imran Khan on Balaok AirStrike) फिर से भारत को जंग की धमकी देने लगे हैं। 20 फरवरी 2019 को बालाकोट (Balakot Airstrike Truth) के जवाब में पाकिस्तानी वायु सेना (Pakistan Air Force) ने भारत के सैन्य ठिकानों पर असफल जवाबी हमला किया था। अब उसी की बरसी पर इमरान खान ने ट्वीट कर खूब जहर उगला है। सिर्फ इमरान खान ही नहीं, बल्कि पाकिस्तानी सेना ने भी अपनी ताकत का जमकर बखान किया। ट्विटरवीर पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) ने यहां तक दावा कर दिया कि उन्होंने 2019 में आज के ही दिन भारतीय असफल दुस्साहस का करारा जवाब दिया था। जबकि, सच्चाई यह है कि भारतीय वायु सेना के तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन ने अपने पुराने मिग-21 बाइसन से पाकिस्तानी वायु सेना के कहीं उन्नत एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया था।

इमरान बोले- जवाब देने के लिए पाक सेना तैयार
इमरान खान ने शेखी बघारते हुए ट्वीट किया कि मैंने हमेशा बातचीत और कूटनीति के माध्यम से संघर्ष समाधान में विश्वास किया है। इसे कभी भी कमजोरी के संकेत के रूप में नहीं लेना चाहिए। जैसा कि हमने 27 फरवरी 2019 को भारत को दिखाया। उन्होंने आगे लिखा कि जब भी भारत हम पर हमला करना चुनेगा, तो राष्ट्र समर्थित हमारे सशस्त्र बल आक्रामकता का जवाब देंगे जो सभी स्तरों पर प्रबल होंगे। हम अपने देश और अपने राष्ट्र की सुरक्षा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता में दृढ़ और अडिग हैं।

शेखी बघारने में पाक सेना भी पीछे नहीं रही
शेखी बघारने में पाकिस्तानी सेना भी पीछे नहीं रही। इमरान खान की हां में हां मिलाते हुए पाकिस्तानी सेना के प्रॉपगैंडा विंग इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन (आईएसपीआर) ने ट्वीट किया कि आज ऑपरेशन स्विफ्ट रिटॉर्ट की तीसरी वर्षगांठ है, जब पाकिस्तान सशस्त्र बलों ने भारतीय ‘असफल’ दुस्साहस का करारा जवाब दिया। हालांकि, पाक सेना यहां यह बताना भूल गई कि बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद उसी के रक्षा मंत्री ने कहा था कि हमारी वायु सेना तैयार थी, लेकिन अंधेरा होने के कारण वह कुछ कर नहीं सकी।

Abhinandan Varthaman: अभिनंदन को मिला सम्मान तो लाल हुआ पाकिस्तान, बोला- इससे ‘सच्चाई’ नहीं बदलेगी
पाक सेना ने बेशर्मी की हदें पार कर दी
पाकिस्तानी सेना ने बेशर्मी की हदें पार करते हुए दावा किया कि पाकिस्तानी वायु सेना ने 27 फरवरी 2019 को हमला कर भारत के दो लड़ाकू विमानों को मार गिराया था। इतना ही नहीं, पाकिस्तानी नौसेना को भी अपने बहसबाजी में शामिल करते हुए कहा कि उस दिन पाकिस्तान के जंगी जहाजों ने भारतीय पनडुब्बी का भी पता लगाया। पाक सेना ने यह भी दावा किया कि उसने एलओसी पर शानदार प्रतिक्रिया देकर अपनी मात्रभूमि की रक्षा की।

पाकिस्तान कितना सही बोल रहा? यहां जानिए
27 फरवरी 2019 को पाकिस्तानी वायु सेना ने भारतीय वायु सेना के बालाकोट एयरस्ट्राइक के जवाब में कार्रवाई करने की हिमाकत की थी। पाकिस्तान के इस दुस्साहस के लिए एलओसी पर भारतीय सेना और हवा में भारतीय वायु सेना पहले से ही तैयार बैठी थी। 27 फरवरी की सुबह जैसे भी भारत के अवाक्स और दूसरे ग्राउंड रडार ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों की गतिविधि को डिटेक्ट किया, वैसे ही भारतीय लड़ाकू विमान अलग-अलग एयरबेस से एयरबॉर्न हुए। इसी में तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन का मिग-21 लड़ाकू विमान भी था।

Abhinandan Varthaman News: बहादुरी के लिए अभिनंदन के सीने पर सजा वीर चक्र, चाय का जिक्र कर उबले पाकिस्तानी
अभिनंदन ने मार गिराया था पाकिस्तानी लड़ाकू विमान
अभिनंदन ने पाकिस्तानी वायु सेना के साथ हवाई संघर्ष के दौरान उनके एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया था। इस दौरान उनके मिग-21 बाइसन को एक मिसाइल लग गई, जिससे उन्हें पाकिस्तान में तीन दिन तक बंधक बनकर रहना पड़ा था। बाद में भारत के कड़े रूख को देखते हुए अमेरिका के दबाव में पाकिस्तान ने अभिनंदन को रिहा कर दिया था। अभिनंदन अब भारतीय वायु सेना में ग्रुप कैप्टन के पद पर प्रोन्नत किए जा चुके हैं। भारतीय सेना में ग्रुप कैप्टन की रैंक कर्नल के बराबर है। जब अभिनंदन ने पाकिस्तानी फाइटर प्लेन को मार गिराया था, उस समय वह 51 स्क्वाड्रन का हिस्सा थे। वह श्रीनगर के करीब अविंतापुरा एयर बेस पर तैनात थे। ग्रुप कैप्टन अभिनंदन के पिता पिता भी वायुसेना में ऑफिसर थे और अब रिटायर हो चुके हैं।

Imran Khan on Balakot Airstrike

बालाकोट एयरस्टाइक की मार को याद कर इमरान खान भारत को धमका रहे

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.