Ukraine Invasion: यूक्रेन की जंग में 50 हजार सैनिकों की ‘कुर्बानी’ को तैयार हैं पुतिन, गिराएंगे रासायनिक हथियार ?


लंदन/कीव
यूक्रेन और रूस के बीच लगातार चौथे दिन भी भीषण जंग जारी है। अब लड़ाई का सबसे बड़ा केंद्र यूक्रेन की राजधानी कीव बन गया है। रूसी सैनिक पिछले 3 दिनों से कीव पर कब्‍जा करने के लिए हमले कर रहे हैं लेकिन उन्‍हें करारा जवाब मिल रहा है। इस बीच ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी ने रूस के लीक दस्‍तावेजों से खुलासा किया है कि रूसी राष्‍ट्रपति इस जंग में 50 हजार सैनिकों को कुर्बान करने को तैयार हैं। यही नहीं रूस का स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय अब ‘मेडिकल इमरजेंसी’ की तैयारी कर रहा है।

ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी ने कहा कि लीक हुए दस्‍तावेजों से खुलासा हुआ है कि रूस 50 हजार सैनिकों को खोने के लिए तैयार है। वहीं अब तक यूक्रेन की जंग में 3 हजार रूसी सैनिकों के मारे जाने का अनुमान है। यह भी डर जताया जा रहा है कि पुतिन सैन्‍य प्रमुखों को यूक्रेन में रासायनिक हथियार के इस्‍तेमाल और अस्‍पतालों पर हमले की मंजूरी दे सकते हैं। यह डर तब जताया जा रहा है जब 3 दिन से लगातार जंग जारी है और रूसी सेना अभी तक मध्‍य कीव तक नहीं पहुंच पाई है।
Russia Invade Ukraine: यूक्रेन की जंग में खूंखार चेचेन ‘शिकारियों’ को उतारेंगे पुतिन! गिरा सकते हैं ‘फादर ऑफ ऑल बॉम्ब’
रासायनिक हथियारों के इस्‍तेमाल की अनुमति ?
हथियारों के जानकार हमीश डी ब्रेटन ने द मिरर से बातचीत में कहा कि अगर रूस को लगता है कि वह यूक्रेन में फंस गया है तो वह रासायनिक हथियारों के इस्‍तेमाल की अनुमति दे सकते हैं। ब्रेटन ने यह बयान ऐसे समय पर दिया है जब रूस के डेप्‍युटी हेल्‍थ मिनिस्‍टर ने मेडिकल कंपनियों को आदेश दिया है कि वे रूस के लोगों की जान बचाने और उन्‍हें सुरक्षित रखने के लिए तेजी से काम करें। रूसी मेडिकल कंपनियों को आदेश दिया गया है कि वे मेडिकल एक्‍सपर्ट और कर्मचारियों की लिस्‍ट स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय को दें ताकि नागरिक कर्मचारियों को तैनात किया जा सके।

25 फरवरी को साइन किए गए इन दस्‍तावेजों से संकेत मिलता है कि रूस बड़ी हेल्‍थ इमरजेंसी की उम्‍मीद कर रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ट्रामा, हर्ट विशेषज्ञ, नर्स, बच्‍चों के डॉक्‍टर और रेडियोलॉजिस्‍ट की लिस्‍ट मांगी है। एक अन्‍य सैन्‍य अधिकारी ने आईटीवी से कहा कि इस दस्‍तावेज से यह खुलासा होता है क‍ि रूस को यह उम्‍मीद नहीं थी कि इस तरह का प्रतिरोध और नुकसान उन्‍हें यूक्रेन में उठाना पड़ सकता है।
Russia China News : चौतरफा घिरे रूस को अब चीन का सहारा, लेकिन ‘मजबूर’ हैं शी जिनपिंग
रूस को भारी नुकसान, 14 विमान, 102 टैंक खोए: यूक्रेन
इस बीच यूक्रेन की सेना ने दावा किया है कि रूस ने 24 फरवरी से लेकर अब तक 14 विमान, 8 हेलीकॉप्टरों, 102 टैंकों, 536 बीबीएम, 15 भारी मशीनगनों और 1 बीयूके मिसाइल को खो दिया है। क्रेमलिन ने 3,500 से अधिक सैनिकों को भी खो दिया, यूक्रेन के सशस्त्र बलों ने शनिवार को कहा, कीव इंडिपेंडेंट ने बताया कि लगभग 200 सेवा सदस्यों को बंधक बना लिया गया है। रूस ने यूक्रेन की सीमा से लगे क्षेत्रों में आरक्षित इकाइयों को फिर से तैनात करना शुरू कर दिया है और हवाईक्षेत्रों, सैन्य डिपो और नागरिकों पर हवाई हमले करना जारी रखा है।

putin-russia

यूक्रेन की जंग में फंस रहा रूस, दबाव में पुतिन

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.