Russia & Ukraine: रूस और यूक्रेन में किसकी सेना है ज्यादा ताकतवर? जानिए विस्तार से..



मौजूदा हालात में रूस ने यूक्रेन को चारों तरफ से घेरने का कार्य किया है और लगभग 200,000 रूसी सैनिक तैनात किए गए हैं। यूक्रेन भी अपने स्तर पर अपने देश और देशवासियों के लिए पूरी तरह से हिम्मत के साथ खड़ा है। हालांकि इस बात से कोई अंजान नहीं है कि सैन्य बल में यूक्रेन का रूस से कोई मुकाबला ही नहीं है। रूस की सेना विश्व में दूसरी सबसे ताकतवर सेना है वहीं, यूक्रेन का नंबर 22वें पायदान पर है। आइए इस लेख के माध्यम से आसान श्ब्दों में रूस और यूक्रेन के मध्य अंतर को समझते हैं।

यूक्रेन और रूस: भौगोलिक परिस्थिति

यूक्रेन
अर्ध-राष्ट्रपति प्रणाली वाला गणराज्य यूक्रेन पूर्वी यूरोप का एक देश है। यह रूस के बाद क्षेत्रफल के हिसाब से यूरोप का दूसरा सबसे बड़ा देश है। यूक्रेन में विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका के बीच शक्तियों का बंटवारा किया गया है। यूक्रेन एक विकासशील देश है जो मानव विकास सूचकांक (HDI) में 74वें स्थान पर है। यह यूरोप का सबसे गरीब देश है जहां उच्च गरीबी दर के साथ-साथ भ्रष्टाचार भी एक बड़ी समस्या है। हालांकि अपने उपजाऊ खेत के कारण, यूक्रेन दुनिया के सबसे बड़े अनाज निर्यातकों में से एक है।

रूस
क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा देश रूस एक मान्यता प्राप्त परमाणु-हथियार राज्य है। रूस के पास दुनिया के परमाणु हथियारों का सबसे बड़ा भंडार है और रूसी सेना विश्व की दूसरी सबसे शक्तिशाली सेना जिस पर चौथा सबसे बड़ा सैन्य खर्च किया जाता है। मानव विकास सूचकांक (HDI) के अनुसार रूस 52वें पायदान पर आता है। रूस के व्यापक खनिज और ऊर्जा संसाधन दुनिया के सबसे बड़े हैं और यह विश्व स्तर पर तेल और प्राकृतिक गैस के प्रमुख उत्पादकों में से एक है।

सैन्य शक्ति

रूस
विश्व की दूसरी सबसे ताकतवर सेना रूसी सशस्त्र बल तीन भागों में विभाजित है- ग्राउंड फोर्सेज, नेवी और एयरोस्पेस फोर्सेज। रूसी सेना में लगभग दस लाख सक्रिय-ड्यूटी कर्मी और कम से कम 2 मिलियन रिजर्व कर्मी हैं जो विश्व की पंचवी सबसे बड़ी सेना है के साथ है। 18-27 आयु वर्ग के सभी पुरुष नागरिकों के लिए सशस्त्र बलों में एक वर्ष की सेवा देना अनिवार्य है।

रूसी सशस्त्र बलों के पास परमाणु हथियारों का दुनिया का सबसे बड़ा भंडार है। इसके पास बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बियों का दूसरा सबसे बड़ा बेड़ा है, दूसरा सबसे शक्तिशाली वायु सेना और नौसेना का बेड़ा है। रूस दुनिया में चौथा नंबर पर सबसे अधिक सैन्य खर्च करता है। 2020 में रूस ने सेन्य बल पर $61.7 बिलियन खर्च किया।

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट के अनुसार 2005-2009 और 2010-2014 के बीच रूस ने प्रमुख हथियारों निर्यात में 37 प्रतिशत वृद्धि की थी। रूसी रक्षा मंत्रालय के अनुसार रूस की सेना में आधुनिक हथियारों की हिस्सेदारी 71.2% है। रूस के पास 12,950 टैंक हैं जो यूएस की टैंको की संख्या का दो गुना है। रूस में 900,000 एक्टिव मिलिट्री है और जबकि 4,100 से अधिक एयरक्राफ्ट हैं।

यूक्रेन
यदि सैन्य बल और शक्ति की बात की जाए तो यूक्रेन 140 देशों की सूची में 22वें नंबर पर आता है। 18-49 वर्ष के लोग यूक्रेनी सेना में अपना योगदान दे सकते हैं। यूक्रेन के सशस्त्र बल ग्राउंड फोर्स, नौसेना, वायु सेना और एयरमोबाइल बलों मिलकर बने हैं। यूक्रेन के नौसैनिक बलों ने अपने स्तर पर छोटे नौसेना इन्फैंट्री बल के साथ-साथ नौसेना एविएशन बल को को बनाया हुआ है।

यूक्रेन का नेशनल गार्ड यूक्रेन की आर्मी के मुख्य रिजर्व्ड घटक के रूप में कार्य करती है। यूक्रेन के सशस्त्र बलों की संख्या 250,000 है जिसमें एक्टिव कर्मियों की संख्या 245,000 है। यूक्रेन के पास 225 एयरक्राफ्ट हैं और 2,430 टैंक हैं जो रूस के मुकाबले बेहद कम हैं। यूक्रेन ने 2020 में सेना पर $6 बिलियन खर्च किया जो रूस के मुकाबले 10 गुना कम है।

PM Modi Cabinet Ministers List 2022: कौन हैं वर्तमान में मोदी कैबिनेट के मंत्री? देखें पूरी लिस्ट

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.