AUS Open Final: राफेल नडाल ने 21वां ग्रैंड स्लैम खिताब जीत रचा इतिहास, जोकोविच-फेडरर रह गए पीछे


मेलबर्न. राफेल नडाल (Rafael Nadal) ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में दानिल मेदवेदेव (Daniil Medvedev) को हराकर इतिहास रच दिया. करीब साढ़े पांच घंटे तक चले मुकाबले में नडाल ने मेदवेदेव को 2-6, 6-7, 6-4, 6-4, 7-5 से हराया. नडाल दूसरी बार ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन बने हैं और यह उनका 21वां ग्रैंडस्लैम खिताब है. इसके साथ नडाल ने रोजर फेडरर और नोवाक जोकोविच को पीछे छोड़ दिया. रोजर फेडरर और नोवाक जोकोविच के नाम 20 ग्रैंडस्लैम खिताब हैं. नडाल इससे पहले 2009 में ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन बने थे.

पहले 2 सेट हारने के बाद नडाल ने पलटी बाजी
इससे पहले 35 वर्षीय राफेल नडाल  ऑस्ट्रेलियन ओपन में पहले दो सेट हारने के बाद कभी मुकाबला नहीं जीते थे. इसके अलावा किसी ग्रैंड स्लैम मुकाबले में पहला दो सेट हारने के बाद वो दो बार ही जीते थे जबकि 19 बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन नडाल इस बार बाजी पलट दी. आखिरी बार उन्होंने ऐसा 2007 में विंबडलन में किया था. इसके अलावा नडाल चौथी बार किसी भी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में पांच सेटों तक चले मुकाबले में जीते हैं.

नडाल ने अपने करियर में रिकॉर्ड 13 बार फ्रेंच ओपन, 4 बार अमेरिकी ओपन और दो-दो बार विंबलडन और ऑस्ट्रेलियन ओपन जीता है. पहली बार उन्होंने रोजर फेडरर को हराकर ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीता था. फाइनल के दौरान दूसरे सेट में कुछ देकर खेल रुका जब एक प्रदर्शनकारी कोर्ट पर उतर आया. नडाल इसके साथ ही चारों ग्रैंडस्लैम खिताब कम से कम दो बार जीतने वाले टेनिस इतिहास के सिर्फ चौथे पुरुष खिलाड़ी बने.

रोजर फेडरर  और नोवाक जोकोविच  की अनुपस्थिति में नडाल को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा था. कोरोना टीकाकरण के कड़े नियमों का पालन नहीं करने के कारण जोकोविच को ऑस्ट्रेलिया से निर्वासित कर दिया गया जबकि फेडरर दाहिने घुटने की सर्जरी के बाद अभी पूरी तरह से फिट नहीं हुए हैं. नडाल ने 2020 फ्रेंच ओपन में अपना 20वां खिताब जीता था. वहीं जोकोविच 2021 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन, फ्रेंच ओपन और विम्बलडन जीतकर 17वें से 20वें खिताब तक पहुंचे. अमेरिकी ओपन फाइनल में वह मेदवेदेव से हार गए थे.

Australian Open 2022: राफेल नडाल बने किंग ऑफ ग्रैंडस्लैम, 21वां ग्रैंडस्लैम जीत बने इतिहास पुरुष

क्रेसिकोवा और सिनियाकोवा ने महिला डबल्स का खिताब जीता
बारबरा क्रेसिकोवा और कैटरिना सिनियाकोवा की शीर्ष वरीय जोड़ी ने अना डेनिलिना और बीटरिज हदाद मेइया की गैरवरीय जोड़ी को कड़े मुकाबले में हराकर ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट का महिला डबल्स का खिताब जीता. चेक गणराज्य की क्रेसिकोवा और सिनियाकोवा की जोड़ी ने डेनिलिना और मेइया को फाइनल में 6-7 (3), 6-4, 6-4 से हराया. चेक गणराज्य की जोड़ी का यह ऑस्ट्रेलियाई ओपन का पहला और करियर का चौथा ग्रैंडस्लैम खिताब है. यह जोड़ी इससे पहले एक बार विंबलडन और दो बार फ्रेंच ओपन का खिताब जीत चुकी है.

दानिल मेदवेदेव ने टेनिस के लिए छोड़ दी थी पढ़ाई, पिता इंजीनियर.. जानिए नडाल की नाक में दम करने वाले के बारे में सब-कुछ

क्रेसिकोवा और सिनियाकोवा की जोड़ी ने टोक्यो ओलंपिक का भी महिला युगल का खिताब जीता था. इस जोड़ी को पिछले साल मेलबर्न में एलिस मर्टेन्स और एरिना सबालेंका के खिलाफ फाइनल में 2-6, 3-6 से हार का सामना करना पड़ा था.

Tags: Australian open, Daniil Medvedev, Novak Djokovic, Rafael Nadal, Roger Federer

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.