NATO Vs Russia: रूस को घेरेंगे नाटो देश, यूक्रेन की सीमा के पास तैनात करेंगे हजारों कमांडो, बढ़ेगी पुतिन की टेंशन ?


कीव
यूक्रेन में चल रही भीषण जंग से टेंशन में आए उत्‍तर अटलांटिक संधि संगठन (NATO) के देशों ने रूस की घेरेबंदी तेज कर दी है। नाटो ने ऐलान किया है कि वह यूक्रेन की सीमा से लगते देशों में हजारों की तादाद में कमांडो तैनात करने जा रहा है। इसके साथ ही साथ यूक्रेन की सेना को भी हथियारों की सप्‍लाइ जारी रहेगी। नाटो ने कहा कि यूक्रेन को एयर डिफेंस सिस्‍टम भी दिया जाएगा ताकि वह रूसी विमानों को तबाह कर सके। नाटो देशों ने पहले ही 100 फाइटर जेट को अलर्ट कर रखा है और पोलैंड-यूक्रेन की सीमा के पास अमेरिकी सैनिक मौजूद हैं।

नाटो के महासचिव जेन्‍स स्‍टोल्‍टेनबर्ग ने शुक्रवार को कहा कि हम हजारों की तादाद में युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार कमांडो यूक्रेन की सीमा से लगे देशों में तैनात करने जा रहे हैं। इन कमांडो में जमीन, हवा, समुद्र और विशेष अभियान में हिस्‍सा लेने वाले जवान शामिल हैं। 30 देशों के संगठन नाटो ने यूक्रेन को सभी तरह के हथियार देंगे। नाटो महासचिव ने कहा, ‘सहयोगी समर्थन को लेकर बहुत प्रतिबद्ध हैं। हम सामूहिक रक्षा नीति के तहत पहली बार नाटो प्रतिक्रिया बल को तैनात कर रहे हैं।’
Russia Kyiv Attack: कीव में भीषण जंग, यूक्रेन ने रूस के दो व‍िशाल IL-76 विमान मार गिराने का किया दावा, आज फैसले का दिन!
यूक्रेन की सरकार को गिराने की साजिश कर रहा रूस
नाटो महासचिव ने कहा कि गलत अनुमान लगाने या नासमझी के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए। हम अपने सहयोगी और नाटो की प्रत्‍येक इंच जमीन की रक्षा करने के लिए प्रत्‍येक कदम उठाएंगे। उन्‍होंने आरोप लगाया कि रूस यूक्रेन की सरकार को गिराने की साजिश कर रहा है। नाटो महासचिव ने यह ऐलान ऐसे समय पर किया है जब यूक्रेन की राजधानी कीव में भीषण जंग चल रही है। रूसी हमलों के बीच यूक्रेन की सेना बचाव की स्थिति में दिखाई दी, हालांकि यूक्रेनी सेना सड़कों पर उतर आई और वह राजधानी को कब्जे में लिए जाने से रोकने के लिए अथक प्रयास कर रही है।
Putin Ukraine War: सोवियत संघ के टुकड़े हुए तब वॉशिंग मशीन लेकर भागे थे पुतिन, खाई थी यूक्रेन से बदले की कसम
उधर, यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने गुरुवार रात एक वीडियो कॉन्फ्रेंस कॉल में अपने यूरोपीय समकक्षों के लिए एक अशुभ चेतावनी दी। इजराइल के वाला न्यूज के एक पत्रकार के अनुसार, उन्होंने अन्य नेताओं से कहा, ‘यह आखिरी बार हो सकता है, जब आप मुझे जीवित देख रहे हों।’ यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकार ने पहले चेतावनी दी थी कि अगर रूस यूक्रेन की राजधानी पर कब्जा करता है, तो जेलेंस्की को मारना चाहता है। रिपोर्ट में कहा गया है, ऐसा माना जा रहा है कि रूस यूक्रेन में कठपुतली सरकार स्थापित करने की योजना बना रहा है, अगर वह कीव पर सफलतापूर्वक कब्जा कर लेता है, तो।

Ukraine Russia War: यूक्रेन में घुसी रूसी सेना, तीसरे विश्व युद्ध में बदल सकता है संकट ?

रूस ने चेचन विशेष बलों के दस्ते को यूक्रेन में तैनात किया
डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, यूक्रेन में विशिष्ट यूक्रेनी अधिकारियों को पकड़ने या मारने के लिए चेचन विशेष बलों के एक दस्ते को यूक्रेन में तैनात किया गया है। डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, मॉस्को टेलीग्राम चैनल के सुरक्षा प्रतिष्ठान के लिंक के साथ प्रत्येक सैनिक को कथित तौर पर यूक्रेनी अधिकारियों की तस्वीरों और उन पर विवरण के साथ एक विशेष ‘कार्ड का डेक’ दिया गया। रिपोर्ट में कहा गया है कि सूची रूसी जांच समिति द्वारा ‘अपराधों’ के संदिग्ध अधिकारियों और सुरक्षा अधिकारियों की है। वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति ने स्वीकार किया कि वह अपनी राजधानी में रूसी हत्यारों के लिए ‘नंबर एक लक्ष्य’ हैं, जबकि उनका परिवार पुतिन के हमलावरों के लिए ‘नंबर दो लक्ष्य’ है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.