Vistara: विस्तारा के मर्जर के बाद बाजार से एक कंपनी हुई कम; अब हवाई सफर महंगा होगा या सस्‍ता?


Tata-Vistara Merger: टाटा समूह ने अपनी एयरलाइंस विस्तारा और एयर इंडिया का मर्जर करने की घोषणा कर दी है. इस मर्जर के साथ ही एयर इंडिया 218 विमानों के संयुक्त बेड़े के साथ भारत की अग्रणी घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय जहाज कंपनी बन गई है. मर्जर के बाद ये भारत की सबसे बड़ी अंतर्राष्ट्रीय वाहक और दूसरी सबसे बड़ी घरेलू वाहक बन गई है. एयर इंडिया पूरी तरह से टाटा संस के स्वामित्व वाली कंपनी है. टाटा संस ने 27 जनवरी 2022  को ही एयर इंडिया की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी. ये एयरलाइन टाटा की सहायक कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड (टैलेस) के माध्यम से खरीदी गई थी. अब इस कंपनी में विस्‍तारा का विलय होने वाला है. इससे ग्राहकों को क्‍या फायदा होने वाला है? आइए जानते हैं.  

विस्तारा ने 2015 में शुरू की थी उड़ान सेवा

विस्तारा ने जनवरी 2015 में उड़ान सेवा शुरू की थी. अब टाटा समूह ने विस्तारा का विलय एयर इंडिया में करने की घोषणा कर दी है. आपको बता दें कि विस्तारा बाजार हिस्सेदारी के मामले में देश की दूसरी सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी थी. विस्‍तारा की पहली उड़ान दिल्ली से मुंबई के बीच 9 जनवरी 2015 को हुई थी. 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.