10 गंभीर लाइफस्टाइल डिजीज के इलाज हैं ये 5 पोषक तत्व


पिछले कुछ समय से लोगों में क्रॉनिक डिज के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। विशेष रूप से काम करने वाले लोगों में स्वास्थ्य संबंधी कई तरह की परेशानियां लगातार सामने आ रही हैं। स्वास्थ्य के मामले में आगे चलकर गंभीर बीमारियों में बदल जाती है। गलत लाइफस्टाइल और भ्रंश की वजह से लोगों में कई तरह की पुरानी डिज विकसित होने लगती हैं। इसकी वजह से ये दिल की बीमारी, चोट, घाव, मोटापा, मेटाबोलिक सिंड्रोम और कुछ प्रकार के कैंसर का खतरा बहुत ज्‍यादा बढ़ जाता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने एक शोध किया इसके बाद का अनुमान लगाया गया है कि 2030 तक वैश्विक स्तर पर होने वाली दुर्घटनाओं में क्रोनिक लाइफस्टाइल डिजीज की वजह से 70 प्रतिशत गलतियां होंगी। इसका सबसे बड़ा कारण विशिष्ट भोजन विवरण, नींद की कमी, तनाव, मिसिंग माइल्स, भौतिक गतिविधियों में कमी और खराब संबंध है। यह सभी कारक क्रोनिक डिजीज को विकसित होने में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

कई मेडिकल रिकॉर्डर और रिपोर्ट के संबंध तो भरोसे और दिल से जुड़ी बीमारियों का सबसे ज्‍यादा खतरा पुरुषों को है। ऐसे में सभी के लिए यह बेहद जरूरी है कि लाइव अपनी लाइफस्टाइल पर ग्रेब्रिएट्स से ध्यान दें और डेली रूटीन में कुछ ऐसा बदलाव करें, जो उन लोगों को स्वास्थ्य बनाए रखने में मदद कर सकें। स्वास्थ्य मंदिर में रहने के लिए शरीर को इन पोषक तत्वों की आवश्यकता है।

फाइबर पाचन को सही करता है

लोगों में बढ़ती उम्र के साथ पाचन से जुड़ी कई बीमारियां सामने आने लगती हैं। एनसीबीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, पेट से जुड़ी इन परेशानियों को दूर रखने के लिए फाइबर युक्त भोजन से काफी पानी भर जाता है। साथ ही यह वजन नियंत्रण और दिल को स्वास्थ्यमंदिर में रखने में भी अहम भूमिका निभाता है। फाइबर के लिए आप अपने डाइटिंग में मोटे फल, खरीदार प्राप्तकर्ता, साबूत दाल और ओट्स को शामिल कर सकते हैं।

शरीर के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी है

स्वस्थ रहने के साथ हड्डियों का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। हड्डियों की झलक और इन्हें स्वस्थ बनाए रखने के लिए शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम की परछाई होना जरूरी है। ऐसे में यह सुनिश्चित करें कि आपके आहार में कैल्शियम से भरपूर खाद्य पदार्थ निश्चित रूप से शामिल हों। कैल्शियम के लिए आप दूध, दही, मछली और हरे पत्ते वाले सभी खा सकते हैं।

पोटेशियम दिखाता है कि मसल्स को साफ करता है

हड्डियों के साथ मांसपेशियों को मजबूत बनाए रखना भी बहुत जरूरी है। इसमें सबसे ज्यादा मदद पोटेशियम करता है। यह ब्लड प्रेशर को लगातार काम भी करता है। पोटेशियम खासकर दिल को स्वास्थ्य मंदिर बनाए रखने में अहम भूमिका निभाता है। पोटेशियम के लिए आप अपने डाइट में ड्रिक्ड मेवों, केले, एवोकाडो, शतरंज और आलू को शामिल कर सकते हैं।

जिओ इंफेक्शन से दूर रहता है

मांसाहार का सेवन करने वालों में जीत की समस्‍या कम होती है। यह समस्या उन लोगों में जयादा है जो शाकाहारी हैं। जीत हमारे शरीर के अंदर इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है। यह शरीर के अंदर और बाहर किसी भी तरह के संक्रमण और घाव को भरने में मदद करता है। इसकी कमी से कई बीमारियां हो सकती हैं। रेड मीट, सीफूड, बींस और साबूत अनाज जीत के लिए बेहतरीन स्‍त्रोत होते हैं।

एंटीऑक्सिडेंट्स बीमारियों से दूर रहते हैं

बॉडी को खतरनाक कीटाणुओं से बचाएं और खुद से फ्री रेडिकल्स को दूर रखने के लिए एंटी-ऑक्सीडेंट बेहद जरूरी हैं। पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट के लिए एक व्यक्ति को हर दिन करीब-करीब सौ साल की छुट्टी मनाने की जरूरत है। इसके अलावा कई तरह के विटामिन और फ्लेवोनोइड्स का पर्दाफाश भी शरीर पर हो जाता है।

अस्वीकरण: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.