Maharashtra News: मां ने बेटी को उठाकर कहा- स्‍कूल नहीं जाना, गुस्‍से में उठी और बाथरूम में नहा रही 7 साल की चचेरी बहन का काटा गला – class nine girl slits seven year old cousin throat in jalna, maharashtra


जालना (महाराष्ट्र): महाराष्ट्र के जालना ज‍िले में हत्‍या की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जालना में एक 14 साल की लड़की ने गुस्से में सोमवार सुबह सात साल की चचेरी बहन की कथित रूप से गला रेत कर हत्या कर दी। किशोरी जालना के एक मशहूर इंगल‍िश मीड‍ियम स्कूल में कक्षा 9 की छात्रा है। लड़की की मां ने तालुका पुलिस में श‍िकायत की। इस पर पुल‍िस ने हत्या के आरोप में लड़की के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुल‍िस ने बताया क‍ि उन्‍हें बाथरूम में साबुन के डिब्बे में एक ब्लेड मिला। इससे लड़की ने बच्‍ची के चेहरे और शरीर पर वार किया था। फिर उसका गला रेत दिया। श‍िकायत में मां ने आरोप लगाया कि उसकी बेटी ने बाथरूम में पानी से खून भी साफ किया और जिस ब्लेड से उसने हत्या की थी उसे वापस साबुन के डिब्बे में रख दिया।

तालुका पुलिस के एसआई शिवाजी वडटे ने कहा कि सात साल की बच्ची का परिवार घनसावंगी में रहता है। उसके पिता, एक किसान हैं। वह चाहते थे कि बच्‍ची को बेहतर शिक्षा मिले और इसलिए उसे जालना के चौधरी नगर इलाके में अपने भाई (किशोरी के पिता) के साथ रहने के लिए भेज दिया। किशोरी के पिता पैथोलॉजी लैब टेक्नीशियन हैं। बताया कि कुछ दिन पहले किशोरी ने स्कूल में एक सेलफोन चोरी किया था। जब वह पकड़ी गई और उसके पास से फोन बरामद हुआ तो उसने स्कूल जाना बंद कर दिया।

बाथरूम में चचेरी बहन की हत्‍या की

पुल‍िस के अुनसार, सोमवार की सुबह किशोरी की मां ने लड़की को नींद से जगाया और जोर देकर कहा कि क्‍या वह स्कूल नहीं जाएगी। इस पर किशोरी ने गुस्से में अपने कमरे का दरवाजा बंद किया और बाथरूम में चली गई। उसकी नाबालिग चचेरी बहन पहले से ही उस बाथरूम में थी। बड़ी लड़की ने फिर बच्ची पर हमला कर द‍िया। बच्ची की चीख सुनकर किशोरी की मां ने दरवाजा खोलने का प्रयास किया लेकिन असफल रही।

पुल‍िस ने दर्ज क‍िया हत्‍या का मुकदमा

लड़की ने अपनी चचेरी बहन की मौत के बाद ही दरवाजा खोला और खून के धब्बे खुद साफ किए। महिला ने तुरंत अपने पति को इसकी जानकारी दी और पुलिस कंट्रोल रूम से भी संपर्क किया। पुलिस की टीमें मौके पर पहुंच गईं। महिला से बातचीत के बाद पुलिस ने शिकायत दर्ज कर ली। पोस्टमार्टम किया गया और सात वर्षीय बच्ची का शव उसके माता-पिता को सौंप दिया गया।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.