बाजवा के जाते ही TTP आतंकियों ने खत्म किया सीजफायर, पाकिस्तान में हर जगह हमला करने का आदेश, मुनीर को खुली धमकी


इस्लामाबाद: पाकिस्तान में जनरल बाजवा के जाते ही तालिबान ने सीजफायर को खत्म करने का ऐलान किया है। तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) ने सोमवार को सरकार के साथ जून में किए गए संघर्ष विराम को वापस लेने का फैसला किया है। इसके साथ ही TTP ने अपने लोगों से पूरे पाकिस्तान में हमला करने का आदेश दिया है। पाकिस्तानी मीडिया डॉन के मुताबिक TTP ने अपने लड़ाकों को एक बयान जारी करते हुए कहा, ‘चूंकि विभिन्न क्षेत्रों में मुजाहिदीन के खिलाफ सेना अभियान चला रही है, इसलिए आपके लिए यह जरूरी है कि देश भर में जहां कहीं भी हो सके हमला करें।’ पाकिस्तान के नए आर्मी चीफ असीम मुनीर को ये सीधी धमकी है।

यह निर्णय पाकिस्तान के लक्की मरवत जिले में TTP के हमले के बाद लिया गया है। TTP ने कहा, ‘हमने बार-बार पाकिस्तान के लोगों को चेतावनी दी थी और धैर्य बनाए रखा, ताकि कम से कम बातचीत की प्रक्रिया हमारी ओर से न बाधित हो। लेकिन सेना और जासूसी एजेंसियां नहीं रुकीं और हमला जारी रखा। अब हमारा भी जवाबी हमला पूरे देश में शुरू होगा।’ तालिबान के इस बयान के बाद सरकार और खुफिया एजेंसियों की ओर से कुछ भी नहीं कहा गया है।

पहले भी हो चुकी है बातचीत
पाकिस्तान के अधिकारियों और TTP के बीच बातचीत पिछले साल अक्टूबर में शुरू हुई थी। लेकिन बातचीत दिसंबर तक खत्म हो गई। इसी साल मई में बातचीत फिर से शुरू हुई, लेकिन कोई हल नहीं निकला। सितंबर में सेना और TTP के बीच चल रहा संघर्ष विराम खत्म हो गया, जिसके बाद तालिबान के हमले एक बार फिर शुरू हो गए। ज्यादातर हमले डेरा इस्माइल खान, टैंक, दक्षिण वजीरिस्तान और उत्तरी वजीरिस्तान जिलों में हुए हैं।

बातचीत का नहीं निकला कोई हल
अक्टूबर में पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने चेतावनी दी थी कि TTP और पाकिस्तान सरकार के बीच चलने वाली बातचीत साल भर से अधिक समय के बाद अब एक ठहराव पर आ गई है। इस बयान के बाद TTP के खेमे में बेचैनी पैदा हो गई। मंत्रालय ने यह भी चेतावनी दी थी कि आतंकवादी गतिविधियां फिर से शुरू करने के लिए TTP इस्लामिक स्टेट या हाफिज गुल के साथ हाथ मिला सकता है। इससे पहले विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने सरकार से TTP से निपटने के लिए अपनी रणनीति पर फिर से विचार को कहा था।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.