गुरुग्राम से दिल्ली आ रहे एक साइकलिस्ट की एक कार एक्सीडेंट में मौत हो गई, बताया जा रहा है कि वह साइकिल चलाते हुए धौला कुंआ की ओर आ रहे थे कि तभी पीछे वीआईपी नंबर की बीएमडब्लयू कार ने टक्कर मार दी


विशेष संवाददाता, नई दिल्ली: दिल्ली एयरपोर्ट के पास एक जाने-माने साइकलिस्ट की कार एक्सिडेंट में मौत हो गई। वह गुरुग्राम से स्पोर्ट साइकल चलाते हुए धौला कुआं की ओर आ रहे थे, तभी रास्ते में महिपालपुर फ्लाईओवर से उतरते वक्त पीछे से उनकी साइकल में हरियाणा के वीआईपी नंबर की बीएमडब्ल्यू कार ने टक्कर मार दी। कार ड्राइवर ही उन्हें सफदरजंग हॉस्पिटल लेकर गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

कार का टायर फटने और संतुलन बिगड़ने से हुआ एक्सीडेंट
साउथ-वेस्ट दिल्ली के डीसीपी मनोज सी का कहना है कि शुरुआती जांच में पता लगा है कि कार का टायर फट गया था, जिससे संतुलन बिगड़ने से यह एक्सीडेंट हुआ। मामले की जांच वसंत कुंज नॉर्थ थाना पुलिस कर रही है। पुलिस ने बताया कि हादसा रविवार सुबह करीब 7:30 बजे एनएच-8 पर गुरुग्राम से धौला कुआं की ओर आते हुए हुआ। मामले में 7:40 बजे पुलिस को कॉल मिली। मतक का नाम शुभेंदु चटर्जी है। 50 साल के शुभेंदु गुरुग्राम सेक्टर-49 में परिवार के साथ रहते थे। वह प्रॉपर्टी डीलर का और दिल्ली में गारमेंट का बिजनेस भी करते थे।

महिपालपुर फ्लाईओवर उतरते वक्त हुआ हादसा
वह लगभग हर दिन वह साइकल चलाते थे। उन्होंने 200 से 600 किलोमीटर दूरी तक भी साइकल चलाई है। रविवार सुबह वह गुरुग्राम से दिल्ली की ओर स्पोर्ट साइकल चलाते हुए आ रहे थे, तभी एनएच-8 पर महिपालपुर फ्लाईओवर उतरते वक्त यह हादसा हो गया। उनकी साइकल को पीछे से बीएमडब्ल्यू कार ने टक्कर मार दी। कार को सोमवीर नाम का ड्राइवर चला रहा था। 30 साल का सोमवीर गुरुग्राम में रहता है। कार पंजाबी बाग इलाके में रहने वाले एक शख्स की है, जिनका मोबाइल और कार एक्सेसरीज का बिजनेस है।

आरोपी कार चालक को मिल गई जमानत
पुलिस ने बताया कि हादसे के वक्त कार में सोमवीर अकेला था। पुलिस मौके से कार को क्रेन की मदद से थाने लाई। एचआर 26 डीके 0001 वीआईपी नंबर की बीएमडब्ल्यू कार चला रहे आरोपी सोमवीर को गिरफ्तार कर लिया गया। लेकिन जमानती अपराध होने के चलते थाने से ही जमानत दे दी गई। यह भी जांच की जा रही है कि वह अकेले ही साइकल चलाकर आ रहे थे या फिर वह किसी साइकलिस्ट ग्रुप के साथ थे।

कार का मिकैनिकल इंस्पेक्शन भी कराया जाएगा
पुलिस ने बताया कि कार की विंड स्क्रीन पर डिफेंस मिनिस्ट्री का एक स्टीकर लगा है। जिसके उपर दिल्ली कैंटोनमेंट बोर्ड लिखा है। स्टीकर में चेयरमैन फाइनेंस कमिटी दिल्ली कैंटोनमेंट बोर्ड भी लिखा है। जांच की जा रही है कि प्राइवेट कार का डिफेंस मिनिस्ट्री के इस स्टीकर के साथ क्या संबंध है। जबकि कार के मालिक का बिजनेस है। स्टीकर असली है या नकली, इसकी भी जांच कराई जाएगी।

पुलिस का कहना है कि कार का मिकैनिकल इंस्पेक्शन भी कराया जाएगा। इसके बाद ही यह साफ हो सकेगा कि हादसे से पहले कार में हुआ क्या था, जो हादसे की वजह बनी। कार के एक टायर में कट का निशान मिला है। कार चला रहे ड्राइवर ने पुलिस को बताया है कि जब वह गुरुग्राम से पंजाबी बाग अपने मालिक के घर की ओर जा रहा था, तभी अचानक कार का टायर फट गया। संतुलन बिगड़ने से कार की टक्कर साइकल के पीछे हो गई। वह घायल को सफदरजंग हॉस्पिटल भी लेकर गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। पुलिस मौके पर और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज की भी जांच कर रही है। कार को सीज कर लिया गया है। पुलिस आरोपी द्वारा दिए गए बयान की भी पूरी तफ्तीश कर रही है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.