Countries Without Airport: दुनिया के इन 5 देशों में नहीं है एयरपोर्ट! जानिए दूसरे देशों में कैसे जाते हैं यहां के लोग


Five Countries Without Airport: दुनिया के अलग-अलग देशों में सफर करने के लिए दो साधनों का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है. इसमें एक है समुद्री रास्ता जो बड़े जहाजों से तय किया जाता है, जबकि दूसरा और सबसे पॉपुलर माध्यम है हवाई मार्ग का, जिसे हवाई जहाज से पूरा किया जाता है. इसे लग्जरी, तेज और आरामदायक माना जाता है. यही वजह है कि अधिकतर लोग दूसरे देशों में जाने के लिए इसी को चुनते हैं. पर क्या आप जानते हैं कि दुनिया में कई ऐसे भी देश में जहां एक भी एयरपोर्ट नहीं हैं. यहां हम आपको बताएंगे ऐसे ही पांच देशों के बारे में जहां एयरपोर्ट नहीं है.

1. एनडोरा (Andorra)

स्पेन और फ्रांस के बीच बसा यह छोटा सा देश पूरे यूरोप से पायरनीज पहाड़ियों (Pyrenees mountains) से कटा हुआ है. यह देश पूरी तरह पहाड़ों पर बसा है, जिसकी ऊंचाई 3000 फीट तक है. ऐसे में इस देश का अपना ऑपरेशनल एयरपोर्ट नहीं है. यहां आने के लिए सबसे नजदीकी एयरपोर्ट प्रिंसिपैलिटी, कैटालोनिया का एनडोरा-ला सियु एयरपोर्ट है जिसकी दूरी करीब 30 किलोमीटर है. 

2. लिकटनस्टाइन (Liechtenstein)

लिकटनस्टाइन प्रिंसिपैलिटी भी पहाड़ी इलाकों के बीच में बसा है. इसका एरिया 160 स्क्वॉयर किलोमीटर है. लिकटनस्टाइन का पूरा परिमाप 75 किलोमीटर है. इसकी जटिल लोकेशन की वजह से यहां एयरपोर्ट संभव नहीं है. यहां आने के लिए बस या कैब के जरिए ज्यूरिक एयरपोर्ट (Zurich Airport) तक जाने का ही विकल्प बचता है, जो 120 किलोमीटर दूर है.

3. द वैटिकन सिटी (The Vatican City) 

द वैटिकन सिटी को दुनिया का सबसे छोटा कहा जाता है. इस देश का एरिया 0.44 स्क्वॉयर किलोमीटर है. यह देश रोम के बीच बसा है. यह न तो समुद्री मार्ग से जुड़ा है और न ही हवाई मार्ग से. हवाई यात्रा करने के लिए लोगों को फियुमिसिनो और सियामपिनो एयरपोर्ट्स तक जाना पड़ता है जहां ट्रेन से पहुंचने में 30 मिनट तक का वक्त लगता है.

4. मोनैको प्रिंसिपैलिटी (Monaco Principality)

यह देश भी बिना एयरपोर्ट के है. हालांकि यह अन्य देशों से रेलवे के जरिए जुड़ा हुआ है. इस देश की आबादी करीब 40 हजार है. यहां भी एयरपोर्ट नहीं है. इसने एयर सर्विस के लिए अपने पड़ोसी देश नाइस से एग्रीमेंट कर रखा है. यहां के लिए हवाई यात्रा नाइस से ही पूरी हो सकती है.

5. सैन मारिनो (San Marino)

सैन मारिनो वैटिकन सिटी और रोम के पास ही स्थिति है. यह देश इटली से भी घिरा हुआ है, लेकिन हैरान कनरे वाली बात ये है कि यह भी न तो समुद्र मार्ग से जुड़ा है और न ही हवाई मार्ग से. इस देश का परिमाप 40 किलोमीटर से भी कम है इसलिए एयरपोर्ट बनाने की जगह नहीं है. देश से सबसे नजदीक एयरपोर्ट रिमिनी का है जो 16 किलोमीटर दूर है. इसके अलावा लोगों के पास वेनिस, पीसा, फ्लोरेंस और बोलोंगना के एयरपोर्ट का भी विकल्प बचता है. 

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi – अब किसी और की ज़रूरत नहीं

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.