India-France: समंदर की सीमा पर न डाले कोई टेढ़ी नजर…देंगे जवाब, भारत-फ्रांस ने मिलाया हाथ


India-France Relationship: फ्रांस के रक्षा मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू ने रविवार को दोहराया कि फ्रांस और भारत अपनी समुद्री संप्रभुता की रक्षा करने और भारत-प्रशांत क्षेत्र में समुद्र में अपनी स्वतंत्रता के लिए एकजुट हैं. फ्रांसीसी दूतावास द्वारा जारी बयान के अनुसार, लेकोर्नू भारत-फ्रांस वार्षिक रक्षा वार्ता आयोजित करने और रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने के लिए आजकल भारत की यात्रा पर हैं. उन्होंने रविवार को भारतीय नौसेना के नवीनतम विमानवाहक पोत, आईएनएस विक्रांत का निरीक्षण किया, विक्रांत भारत में डिजाइन और निर्मित किया गया है.

लेकोर्नू ने इसके बाद ट्वीट किया, “भारतीय नौसेना के नवीनतम विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत पर मौजूद, जिसे भारत में डिजाइन और निर्मित किया गया है. फ्रांस और भारत अपनी समुद्री संप्रभुता की रक्षा करने और भारत-प्रशांत क्षेत्र में समुद्र में आवाजाही की स्वतंत्रता के लिए एकजुट हैं.”

दो दिनों की भारत यात्रा पर हैं फ्रांस के रक्षा मंत्री

27-28 नवंबर को भारत की अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान, फ्रांस के मंत्री लेकोर्नू अपने समकक्ष राजनाथ सिंह के साथ रक्षा सहयोग के सभी पहलुओं पर विस्तृत बातचीत करेंगे, जिसमें परिचालन रक्षा संबंध, आतंकवाद का मुकाबला, समुद्री सुरक्षा शामिल है. वे भारत की “आत्मानिर्भर भारत” नीति के अनुरूप इंडो-पैसिफिक, और औद्योगिक और तकनीकी साझेदारी पर भी बातचीत करेंगे.

News Reels

फ्रांसीसी मंत्री के विदेश मंत्री एस जयशंकर से भी मिलने की उम्मीद है और वे उनसे यूरोप और इंडो-पैसिफिक में स्थिति सहित आम चिंता के वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगे, इसके साथ ही वे जी20 की भारत की अध्यक्षता के लिए फ्रांस के पूर्ण समर्थन से भी विदेश मंत्री जयशंकर को अवगत कराएंगे, जिसकी एक दिसंबर से शुरुआत हो रही है.

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से भी मिलेंगे. फ्रांस के रक्षा मंत्री 

फ्रांस के रक्षा मंत्री लेकोर्नू क्षेत्रीय सुरक्षा मुद्दों और आतंकवाद का मुकाबला करने में दोनों देशों के बीच घनिष्ठ सहयोग पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से भी मिलेंगे. फ्रांस के रक्षा मंत्रायल से जारी बयान में कहा गया है कि अपनी यात्रा के दौरान, मंत्री लेकोर्नू भारत के सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए दिल्ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का दौरा भी करेंगे, जिन्होंने कर्तव्य के दौरान अपने प्राणों की आहुति दी है.

रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस के सशस्त्र सेना मंत्री सेबेस्टियन लेकोर्नू के साथ चौथी भारत-फ्रांस वार्षिक रक्षा वार्ता की सह-अध्यक्षता करेंगे.

यह भी पढ़ें: Maldives: मालदीव ने चीन-हिंद महासागर फोरम में शामिल होने से किया इनकार, चीन ने किया था ये दावा

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.