श्रद्धा हत्याकांड: आरोपी आफताब 13 दिन की न्यायिक हिरासत में – shraddha murder accused aftab in judicial custody for 13 days


नयी दिल्ली, 26 नवंबर (भाषा) राष्ट्रीय राजधानी की एक अदालत ने दक्षिण दिल्ली के महरौली इलाके में अपनी सह-जीवन साथी श्रद्धा वालकर की हत्या करने और शव के 35 टुकड़े करने के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को शनिवार को 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पुलिस ने हत्या के बाद आफताब के घर आई महिला से भी पूछताछ की है।

पूनावाला ने कथित तौर पर 27-वर्षीय श्रद्धा का गला घोंट दिया और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिये, जिसे उसने अपने महरौली स्थित आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर के फ्रिज में रखा और फिर कई दिनों तक शहर भर में फेंकता रहा था।

तिहाड़ जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आफताब को जेल नंबर चार में रखा गया है, जहां पहली बार अपराध करने वालों को रखा जाता है।

अधिकारी ने बताया कि उचित प्रक्रिया का पालन करते हुए आफताब का चिकित्सीय परीक्षण किया गया। उन्होंने कहा कि वह सेल में अकेला नहीं है, लेकिन उसकी सुरक्षा को लेकर सभी सावधानियां बरती जा रही हैं।

पुलिस ने बताया कि आरोपी को 13 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

आरोपी को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था और पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया था, जिसे 17 नवंबर को फिर से पेश किया गया और उसकी हिरासत अवधि पांच दिनों के लिए और बढ़ा दी गयी थी।

पिछले मंगलवार को उसकी पुलिस हिरासत चार दिन के लिए एक बार और बढ़ा दी गयी थी।

पुलिस ने बताया कि उन्होंने उस महिला से भी पूछताछ की है जो श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब के घर आई थी।

पुलिस ने बताया कि आरोपी एक डेटिंग ऐप के माध्यम से इस मनोवैज्ञानिक महिला के संपर्क में आया था और उसे अपने आवास पर बुलाया था।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक जब आफताब ने मनोवैज्ञानिक को अपने यहां बुलाया था तब श्रद्धा के शव के टुकड़े फ्रिज के अंदर रखे हुए थे।

विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था, जोन दो) सागर प्रीत हुड्डा ने बताया कि पुलिस ने पॉलीग्राफ टेस्ट में आगे की कार्रवाई के लिए आरोपी को पेश करने के वास्ते कानूनी प्रक्रिया शुरू कर दी है।

आफताब का पॉलीग्राफ परीक्षण शुक्रवार को यहां फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी में करीब तीन घंटे तक किया गया था।

पुलिस ने बताया कि पूनावाला पोलीग्राफ जांच के अपने तीसरे सत्र के लिए शाम चार बजे यहां रोहिणी स्थित एफएसएल पहुंचा और साढ़े छह बजे के बाद लौट गया।

दिल्ली पुलिस ने आफताब के फ्लैट से पांच चाकू जब्त किये थे और उन्हें यह पता लगाने के लिए एफएसएल भेजा है कि क्या उनका अपराध में इस्तेमाल हुआ था।

पुलिस ने पहले कहा था कि कथित तौर पर पूनावाला ने अपनी ‘लिव-इन पार्टनर’ श्रद्धा का शव काटने के लिए जिस आरी का इस्तेमाल किया था, वह अभी बरामद नहीं हुआ है।

दिल्ली पुलिस को श्रद्धा हत्या मामले में डीएनए जांच रिपोर्ट अभी नहीं मिली है।

पुलिस के मुताबिक, श्रद्धा हत्या मामले में अब तक बरामद किये गये शरीर के अंगों के साथ डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक एसिड (डीएनए) मिलान के लिए मृतका के पिता और भाई के रक्त के नमूने एकत्र किये गये हैं।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.