PhonePe और Google Pay यूजर्स नहीं कर पाएंगे दबाकर UPI पेमेंट, यह वजह बनीं मुसीबत


नई दिल्ली। ऑनलाइन पेमेंट करने के मामले में भारत हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है। भारत में Google Pay और PhonePe सबसे बड़े UPI ऑनलाइन पेमेंट फ्लेटफॉर्म हैं। भारत में इन दोनों प्लेटफॉर्म से कुल मिलाकर करीब 80 फीसद ऑनलाइन UPI पेमेंट किया जाता हैं। हालांकि जल्द PhonePe और Google Pay करने वालों को जोरदार झटका लगने जा रहा है। दरअसल Google Pay, PhonePe, Paytm जैसे UPI पेमेंट ऐप पर ट्रांजैक्शन लिमिट सेट की जा सकती है। साधारण शब्दों में कहा जाएं, तो जल्द यूजर्स UPI पेमेंट ऐप्स से अनलिमिटेड UPI पेमेंट नहीं कर पाएंगे।

31 दिसंबर तक लागू हो सकता है फैसला
दरअसल भारत में UPI लेनदेन की देखरेख करने वाली बॉडी भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के साथ मिलकर UPI Payment के लिए 30 फीसद ट्रांजैक्शन लिमिट सेट किया जा सकता है। रिपोर्ट की मानें, तो NPCI की तरफ से नए नियम को 31 दिसंबर तक लागू किया जा सकता है।

अनलिमिटेड UPI पेमेंट पर लगी रोक
बता दें कि मौजूदा वक्त में UPI पेमेंट करने को लेकर कोई ट्रांजैक्शन लिमिट सेट नहीं है। यानी अभी आप अनलिमिटेड UPI पेमेंट कर सकते हैं। NPCI की तरफ से नवंबर 2022 में थर्ड पार्टी पेमेंट ऐप के लिए 30 फीसद UPI ट्रांजैक्शन कैप का प्रस्ताव रखा था, जिसे मंजूरी मिलने की संभावना है। रिपोर्ट की मानें तो 31 दिसंबर तक 30 फीसद UPI ट्रांजैक्शन लिमिट पर फैसला लिया जा सकता है। ऐसे में 31 जनवरी के बाद PhonePe और Google Pay से अनलिमिटेड UPI पेंमेंट पर रोक लग सकती है।

पहली बार नहीं आया ऐसा प्रस्ताव
हालांकि यह पहली बार नहीं है, जब इस तरह का प्रस्ताव आया है। इससे पहले साल 2020 में भी NPCI ने 30 फीसद UPI पेमेंट का प्रस्ताव रखा गया था।

क्यों लिया जा रहा ये फैसला
दरअसल UPI पेमेंट ऐप पर PhonePe और Google Pay का दबदबा है। ऐसे में सरकार सभी UPI पेमेंट प्लेटफॉर्म को प्लेइंग फील्ड मुहैया कराना चाहती है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.