पता नहीं बदनशीब हूं या खुशनशीब, बंकर में पनाह लिए इस भारतीय छात्र ने सुनाया अपना दर्द


| नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: Feb 25, 2022, 4:10 PM

Views: 1012

Embed

कीव : रूस-यूक्रेन युद्ध (Russia Ukraine Conflict के बीच यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्र शशि ने नवभारत टाइम्स डिजिटल से बात करते हुए आपबीती सुनाई। बताया- “हमने 24 फरवरी की रात एक बंकर में बिताई। हमले की खबर आते ही शहर में भगदड़ मच गई। स्थानीय प्रशासन ने लोगों को अलग-अलग जगह बने बंकरों में शिफ्ट किया है। शहर में मार्शल लॉ लगन के बाद लोगों में पैनिक है।” शशि ने बताया कि शहर में कई बंकर बनाए गए हैंं और लोग राशन वगैरह की व्यवस्था कर बंकर में छिपे हैं।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.