Ukraine Russia War Updates: युद्ध के बीच फंसे हजारों भारतीय कैसे लौटेंगे घर, जानिए अब क्या तीन रास्ते


रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध (Ukraine Russia War) छिड़ गया है। युद्ध के समय बजने वाली सायरन की आवाजें टीवी चैनलों के जरिए भारत के घरों में सुनाई दे रही हैं। यूक्रेन के आसमान में धुआं-धुआं देख वो भारतीय परिवार घबराए हुए हैं, जिनके नाते रिश्तेदार और बच्चे वहां फंसे (Idian ) हुए हैं। रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि 18,000 से ज्यादा भारतीय अब भी यूक्रेन में हैं। 72 घंटे पहले यूक्रेन से भारतीयों को एयरलिफ्ट करने का ऑपरेशन शुरू किया गया था, सैंकड़ों भारतीय सकुशल स्वदेश लौटे भी हैं, लेकिन हमले शुरू होने के बाद इसे रोकना पड़ा है। युद्ध छिड़ने के बाद यूक्रेन ने अपना एयरस्पेस असैन्य विमान परिचालन के लिए बंद करने का ऐलान किया है। अगर फ्लाइट रूट देखें तो नई दिल्ली से यूक्रेन जाने वाले प्लेन पाकिस्तान, ईरान के आसमान से होकर जाते हैं और इसमें करीब 8 घंटे का वक्त लगता है। आइए समझते हैं कि यूक्रेन में फंसे भारतीय कैसे स्वदेश लौट सकते हैं और अभी क्या संभावनाएं बन रही हैं?

पहला विकल्प
यूक्रेन की राजधानी कीव में हालात ज्यादा बिगड़े तो बमबारी से कम प्रभावित क्षेत्र में प्लेन उतारकर लोगों को एयरलिफ्ट किया जा सकता है। सभी भारतीयों को पहले
ऐसी जगह पर सुरक्षित शिफ्ट करना होगा और फिर उन्हें एयरलिफ्ट करना होगा।

दूसरा विकल्प
अगर युद्ध आगे बढ़ता है और कुछ दिनों में हालात नहीं सुधरते हैं तो भारत यूक्रेन से सटे पड़ोसी मुल्क माल्डोवा या ऐसी किसी अन्य जगह पर भारतीयों को इकट्ठा करके निकाल सकता है जहां बमबारी ना हो रही हो।

तीसरा विकल्प
एक विकल्प संघर्ष विराम के समय लोगों को निकालने का भी होता है। अंतरराष्ट्रीय दबाव में अगर रूस कुछ समय के लिए हमले रोकता है तो निर्धारित अवधि में भारत समेत दुनियाभर के देश अपने नागरिकों को निकालने के लिए स्पेशल फ्लाइट चला सकते हैं। वैसे भी रूस ने दावा किया है कि वो नागरिकों को निशाना नहीं बना रहा है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.