Indian Railways अब आपका पसंदीदा सामान भी घर तक करेगा डिलीवर; ऐप से काम होगा आसान



रेलवे इस प्रोजेक्ट के लिए डाक विभाग और माल ढुलाई के लिए तैयार किए गए डेडिकेटेड फ्रेट के साथ मिलकर काम कर रहा है। हालांकि डेडिकेटेड फ्रेट ने इसका ट्रायल भी शुरू कर दिया है।

फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी कंपनियों की तर्ज पर अब इंडियन रेलवे भी आपके पसंदीदा सामान को आपने घर तक डिलीवर करेगा। रेलवे इसके लिए एक ऐप भी लांच करेगा जिस पर आप अपने सामान को ऑर्डर कर सकेंगे। सबसे पहले इसको पायलट प्रोजेक्ट के तौर दिल्ली एनसीआर के इलाकों और गुजरात के इलाकों में शुरू करने की तैयारी है। 

रेलवे की इस नई डोर टू ड़ोर डिलीवरी सर्विस के जरिए आप देशभर के किसी भी हिस्से में मौजूद अपने पसंदीदा सामान को अपने घर पर मंगवा सकेंगे। होम डिलीवरी के साथ ही ग्राहकों को अपने सामान को किसी ख़ास जगह से भी कलेक्ट करने की सुविधा मिलेगी। रेलवे के इस अनूठे प्रोजेक्ट के लिए बनाए जाने वाले ऐप में आप आर्डर देने के साथ ही आप अपने सामान को ट्रैक कर यह पता लगा पाएंगे कि आपका सामान कहां तक पहुंचा है। साथ ही आप अपने सामान के लिए लगने वाले डिलीवरी चार्ज का भी पता लगा सकेंगे।   

रेलवे इस प्रोजेक्ट के लिए डाक विभाग और माल ढुलाई के लिए तैयार किए गए डेडिकेटेड फ्रेट के साथ मिलकर काम कर रहा है। हालांकि डेडिकेटेड फ्रेट ने इसका ट्रायल भी शुरू कर दिया है। इसी साल जून जुलाई के महीने में रेलवे इस नए सेवा को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर दिल्ली-एनसीआर और गुजरात में लांच कर सकती है। इसके बाद यह सेवा देश के अन्य शहरों में भी लागू कर सकती है।

रेलवे अपने इस नए प्रोजेक्ट के जरिए होम डिलीवरी के क्षेत्र में अपनी जगह बनाने की कोशिश कर रही है। हालांकि अभी तक ऐसा काम प्राइवेट कंपनियां ही करती थी। जिसमें कुछ कुरियर और ई कॉमर्स कंपनियां शामिल थीं। माना जा रहा है कि रेलवे के इस कदम से डिलीवरी शुल्क में भी कमी आ सकती है क्योंकि सड़क के जरिए होने वाली डिलीवरी में कीमत ज्यादा लगती है। मौजूदा समय में रेलवे ने फ्रेट के ऊपर नए सिरे से ध्यान दिया है और कमाई बढ़ाने पर भी फोकस कर रही है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.