Share Market Ukraine Crisis: सेंसेक्स 2800 अंक गिरा तो हाहाकार, रूस का शेयर मार्केट तो आधा हो गया; क्या दलाल स्ट्रीट पर होगा ब्लैक फ्राइडे


नई दिल्ली: यूक्रेन पर रूस के हमले (Russia Attacks on Ukraine) शुरू हो गए हैं। इन हमलों का असर गुरुवार को भारतीय शेयर मार्केट्स (Domestic Stocks Markets) के साथ-साथ वैश्विक बाजारों (Global Markets) पर भी दिखा। यहां तक कि रूस के शेयर बाजार भी इससे अछूते नहीं रहे। भारत में जहां बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) 2,800 अंक तक गिर गया, वहीं मॉस्को एक्सचेंज पर रूसी स्टॉक्स (Russian Stocks) तो 50 फीसदी से ज्यादा लुढ़क गए। यूक्रेन संकट (Ukraine Crisis) के बीच रूस के मॉस्को एक्सचेंज पर करीब दो घंटे तक ट्रेडिंग सस्पेंड रही। उसके बाद जब भारतीय समयानुसार दोपहर 12.30 बजे ट्रेडिंग फिर शुरू हुई तो रूसी शेयरों में 50 फीसदी से अधिक की गिरावट आई।

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन के खिलाफ “एक विशेष सैन्य अभियान” की घोषणा के बाद एक्सचेंज ने व्यापार को निलंबित कर दिया था। भारतीय समयानुसार दोपहर 2 बजे तक, RTS इंडेक्स 50.05 फीसदी की गिरावट के साथ 612.69-स्तर पर और MOEX ब्रॉड मार्केट 44.59 फीसदी की गिरावट के साथ 1,226.65 पर आ गया। एक्सचेंज का वोलैटिलिटी (डर) इंडेक्स 35.10 फीसदी तक चढ़ा।

रुपया 109 पैसे टूटा
यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की के सलाहकार का कहना है कि यूक्रेन पर रूसी हमले में अब तक करीब 40 लोग मारे जा चुके हैं। कई लोग घायल हुए हैं। यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 109 पैसे की बड़ी गिरावट के साथ 75.70 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर पर बंद हुआ।

भारतीय बाजार कितने टूटे
बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) गुरुवार को भारी गिरावट के साथ खुला और कारोबार के दौरान करीब 2,800 अंक तक गिर गया। आखिर में यह 2702 यानी 4.72% गिरावट के साथ 54,529.91 पर बंद हुआ। एनएसई का निफ्टी (Nifty) भी 815.30 अंक यानी 4.78% की गिरावट के साथ 16,247 अंक पर कारोबार कर रहा था। घरेलू शेयर बाजार लगातार सातवें दिन गिरावट के साथ बंद हुए।

शुक्रवार को क्या रह सकता है हाल
शेयर बाजारों में यूक्रेन पर हमले की सुगबुगाहट से ही गिरावट आनी शुरू हो गई थी। पिछले 7 सत्रों से गिरावट का दौर जारी है। ऐसे में शुक्रवार को भी इसके बने रहने की संभावना है। जानकारों का मानना है कि शुक्रवार को भी शेयर बाजार तगड़ी गिरावट झेल सकते हैं, जिससे शुक्रवार को दिन निवेशकों के लिए ब्लैक फ्राइडे साबित हो सकता है। गुरुवार को आई गिरावट से निवेशकों को 10 लाख करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआ है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.