“केंद्र देश में मजदूरों की फौज कर रही तैयार, बच्चों के भविष्य संग कर रही खिलवाड़”



बीकेयू नेता लंबे समय से बीजेपी और मोदी सरकार की नीतियों व कार्यशैली को लेकर मुखर तरीके से अपनी बात रखते रहे हैं।

भारतीय किसान यूनियन (BKU) के नेता और प्रवक्ता राकेश टिकैत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर जुबानी हमला बोला है। उन्होंने बुधवार (23 फरवरी, 2022) रात एक ट्वीट के जरिए कहा- सरकार देश में मजदूरों की फौज तैयार कर रही है। बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। पूरे प्रदेश में छुट्टा पशुओं की समस्या अत्यंत विकट है। आवारा पशुओं ने किसानों को परेशान कर रखा है। फसलों के चरे जाने से खेती पिछड़ रही है, जिससे पैदावार भी घट जाती है।

टिकैत का यह निशाना ऐसे वक्त पर आया है, जब उनकी चुनावी माहौल में संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के आह्वान पर यूपी के तीन प्रमुख शहरों में प्रेस कॉन्फ्रेंस की करने की योजना है। इनमें प्रयागराज, गोरखपुर और बनारस शहर शामिल हैं।

किसान नेता ने इससे पहले 21 फरवरी, 2022 को केंद्र सरकार को खुली चेतावनी दी थी कि वह देश के अन्नदाता का विश्वास को न तोड़े। उन्होंने तब एक ट्वीट कर कहा था, “भारत सरकार ने नौ दिसंबर के खत में जो वादे किए गए थे वे पूरे नहीं किए। हम अन्नदाता के हितों की रक्षा के लिए देशभर में जाएंगे। किसानों और मजदूरों के अथक प्रयास से ही आर्थिक मंदी-लॉकडाउन के बावजूद देश में कृषि उपज लगातार बढ़ी। सरकार देश के अन्नदाता का विश्वास को न तोड़े।”

वह इसके अलावा गन्ना किसानों के मसले को भी पुरजोर तरीके से उठा चुके हैं। 19 फरवरी, 2022 को उन्होंने कहा था- पूरा देश डिजिटल हो रहा है। गन्ना भुगतान को डिजिटल करें। जबतक गन्ना किसान अपने घर पहुंचे तो उसका भुगतान खाते में पहुंच जाना चाहिए।

टिकैत ने यह भी दावा किया था कि विकास सिर्फ महंगाई का हुआ है। उनके 17 फरवरी को किए एक ट्वीट के मुताबिक, महंगाई के कारण किसानों को मजबूरी में अपनी फसल आधे रेट पर बेचनी पड़ रही है, जबकि गैस का सिलेंडर 400 रुपए से 1000 तक पहुंच गया है। महंगाई ने आम जनता की कमर तोड़ दी है।

बता दें कि टिकैत बीते काफी वक्त से मोदी सरकार और बीजेपी के काम करने के तरीके और पॉलिसियों का पुरजोर विरोध करते आए हैं। वे इन्हें किसान, मजदूर और छात्र विरोधी बताते रहे हैं। टिकैत का यह भी आरोप रहा है कि केंद्र सरकार कॉरपोरेट को ध्यान में रखकर काम करती है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.