पुतिन अपने आप नहीं रुकेंगे, यूरोप में युद्ध की शुरुआत विश्व व्यवस्था का अंत होगी, UN में बोला यूक्रेन


न्यूयॉर्क: पूर्वी यूरोप में जारी तनाव (Russia Ukraine Crisis) को लेकर यूक्रेन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) की बैठक में रूस पर जमकर निशाना साधा। यूक्रेनी विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अपने आप नहीं रुकने वाले हैं। उन्होंने रूस पर और अधिक कड़े प्रतिबंध लगाने की मांग भी की। यूक्रेनी विदेश मंत्री ने यह भी कहा कि दुनिया को अतीत की गलतियों को नहीं दोहराना चाहिए। उन्होंने दावा किया कि यूक्रेन ने कभी किसी को धमकी या हमला नहीं किया है और डोनबास क्षेत्र में हमले की योजना भी नहीं बनाई है। इस बैठक में यूक्रेनी इलाकों पर विद्रोहियों के अवैध कब्जे पर भी चर्चा की गई।

दुनिया को अतीत की गलतियां नहीं दोहराना चाहिए
यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने कहा कि दुनिया को अतीत की गलतियों को नहीं दोहराना चाहिए। मैं स्वतंत्र विश्व की शक्ति और यूरोप में एक नई विनाशकारी तबाही को टालने की हमारी संयुक्त क्षमता में विश्वास करता हूं। 40 मिलियन यूक्रेनियन केवल शांति और एकजुटता से रहना चाहते हैं। हम वर्तमान में द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से यूरोप में सबसे बड़े सुरक्षा संकट के बीच में हैं। यह संकट रूसी संघ द्वारा एकतरफा रूप से बनाया और बढ़ाया जा रहा है। यूक्रेन पर रूस के आरोप बेबुनियाद हैं।

China Taiwan News: ताइवान यूक्रेन नहीं है… चीन की धमकी का मतलब तो जानें, क्या आपदा में अवसर तलाश रहा बीजिंग?
यूक्रेन ने कभी भी किसी देश को धमकी नहीं दी है
उन्होंने दावा किया कि यूक्रेन ने कभी किसी को धमकी या हमला नहीं किया है। यूक्रेन ने कभी भी डोनबास में किसी भी सैन्य हमले की योजना नहीं बनाई है और न ही कोई उकसावे और न ही तोड़फोड़ की कार्रवाई की है। उन्होंने दुनियाभर के देशों से मांग करते हुए कहा कि हमें रूस को रोकने के लिए इस आखिरी मौके का इस्तेमाल करने की जरूरत है। साफ है कि राष्ट्रपति पुतिन अपने आप नहीं रुकेंगे। यूक्रेन में बड़े पैमाने पर युद्ध की शुरुआत विश्व व्यवस्था का अंत होगी जैसा कि हम जानते हैं।

Russia Ukraine Crisis: यूक्रेन संकट पर अमेरिका के आक्रामक रुख से भड़का चीन, दहशत पैदा करने का लगाया आरोप
रूस को रोकने के लिए कदम उठाने की मांग की
दिमित्रो कुलेबा ने यह भी कहा कि यह सुझाव देना बेतुका है कि यूक्रेन इस तरह की किसी भी चीज के लिए तैयार हो सकता है और महीनों तक इंतजार कर सकता है। उन्होंने दावा किया कि रूस ने यूक्रेन की सीमा पर विशाल सैन्य बलों को तैनात कर रखा है। उन्होंने विश्व भर की महाशक्तियों से रूस के खिलाफ कड़े प्रतिबंध लगाने की अपील भी की है।

यूक्रेन संकट के बीच रूस पहुंचे इमरान खान, भारत की कीमत पर पाकिस्तान से दोस्ती करेंगे पुतिन?
यूक्रेन ने रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने की मांग की
यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने आक्रामक रुख को लेकर रूस पर कड़े अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगाने की बुधवार को मांग की। कुलेबा ने ट्वीट किया कि पुतिन को और आक्रामकता से रोकने के लिए हम भागीदारों से रूस पर अब और प्रतिबंध लगाने का आह्वान करते हैं। उन्होंने पिछले दिन मास्को पर लगाए गए अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के लिए धन्यवाद व्यक्त किया। लेकिन उन्होंने देशों से रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर दबाव और बढ़ाने का आग्रह किया। कुलेबा ने ट्वीट किया कि उनकी अर्थव्यवस्था और सहयोगियों पर प्रहार करें। जोरदार प्रहार करें। अभी करें।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.