Delhi Airport के टी-1 Arrival Terminal पर मिलेगी वर्ल्ड क्लास सुविधा, चंद घंटों में होगा शुरू


Delhi Airport Arrival Terminal T-1: दिल्ली एयरपोर्ट के नए अराइवल टर्मिनल T1 पर गुरुवार सुबह से संचालन शुरू हो जाएगा.  इसके संचालन के साथ ही T1C का पूरा अराइवल संचालन को T1 शिफ्ट हो जाएगा. दिल्ली एयरपोर्ट का यह नया टर्मिनल वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस है. यहां न केवल यात्रियों को बल्कि यात्रियों को रिसीव करने वालों को भी अत्याधुनिक सुविधाओं का अनुभव होगा. इस टर्मिनल पर सबसे पहले गुरुवार तड़के 3:20 पर गोवा से दिल्ली आ रहे इंडिगो 6ई 6532 विमान के यात्री पहुंचेंगे.

आईजीआई हवाई अड्डे के लिए बड़े पैमाने पर विकास और आधुनिकीकरण योजना के तहत इसे वर्ल्ड क्लास सुविधाओं के साथ तैयार किया गया है. एयरपोर्ट की 3A विस्तार परियोजना के हिस्से के रूप में सुरक्षित और टिकाऊ बुनियादी सुविधाओं के साथ यात्री अनुभव को बढ़ाने की प्रतिबद्धता के साथ, GMR इंफ्रास्ट्रक्चर के नेतृत्व में दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) कंसोर्टियम ने इस नए अराइवल टर्मिनल 1 का निर्माण किया है.

नया टर्मिनल 24 फरवरी 2022 को लगभग 3.20 बजे गोवा से इंडिगो की फ्लाइट (6E 6532) के अराइवल के साथ चालू हो जाएगा. नए अराइवल टर्मिनल के खुलने के साथ, T1 (इंडिगो और स्पाइसजेट) का संपूर्ण अराइवल सेटअप यहां शिफ्ट हो जाएगा. वहीं, डिपार्चर मौजूदा टर्मिनल से जारी रहेगा और काम पूरा हो जाने पर इसे नए टर्मिनल के साथ मिला दिया जाएगा.

इस नए टर्मिनल में मीट एंड ग्रीट जोन, आलीशान फोरकोर्ट एरिया, फूड एंड बेवरेज (एफ एंड बी) के लिए लैंडस्केपिंग और कियोस्क, कारों के लिए रिटेल और विस्तारित पार्किंग एरिया और भी कई अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ याभियों को विशिष्ट अनुभव प्रदान करेगा.

शहर की ओर अराइवल टर्मिनल के बाहर पिकअप लेन को और चौड़ा किया गया है. तीन अतिरिक्त लेन बढ़ाए गए हैं, जिसके बाद यहां कुल लेन की संख्या 11 हो गई है. इससे टैफिक तो कम होगा ही साथ यात्रियों की भीड़ बी कम होगी और पिकअप के दौरान यात्री अनुभव और सुविधा में काफी सुधार होगा.
 
DIAL की हरित पहल के तहत विश्व स्तर पर प्रसिद्ध LEED (ऊर्जा और पर्यावरण डिजाइन में नेतृत्व) ग्रीन बिल्डिंग मानकों को ध्यान में रखते हुए नए अराइवल टर्मिनल को तैयार किया गया है. LEED स्वस्थ, कुशल, कार्बन और लागत बचाने वाली ग्रीन बिल्डिंग के लिए फ्रेमवर्क प्रदान करता है. यह टर्मिनल पर्यावरण अनुकूल है. ग्रीन बिल्डिंग के तर्ज पर तैयार यह टर्मिनल प्राकृतिक रौशनी से जगमग रहेगा. इससे बिजली की खपत भी कम होगी.

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.