ITBP कमांडेंट ने -30 डिग्री में किए 65 पुश-अप्स, आनंद महिंद्रा बोले- मैं भी डेस्क छोड़ आऊंगा फ्लोर पर



कमांडेंट रतन सिंह सोनल मूल रूप से उतराखंड के कुमायूं घाटी के पिथौरागढ़ के रहने वाले हैं। वे दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची चोटी माउंट मनास्लु को भी फतह कर चुके हैं।

55 साल के आईटीबीपी कमांडेंट ने -30 डिग्री सेल्सियस में करीब 17,500 फुट की उंचाई पर 65 पुश- अप्स किए। आईटीबीपी कमांडेंट द्वारा पुश-अप्स किए जाने का वीडियो दिग्गज उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने भी शेयर किया है। वीडियो शेयर करते हुए आनंद महिंद्रा ने लिखा कि मैं भी डेस्क छोड़ फ्लोर पर आऊंगा।

दरअसल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है यह वीडियो आईटीबीपी के कमांडेंट रतन सिंह सोनल का है। 55वर्षीय रतन सिंह सोनल लद्दाख में तैनात हैं। वीडियो में वे -30 डिग्री सेल्सियस में समुद्र तल से 17500 फुट की उंचाई पर करीब 65 पुश-अप्स करते नजर आ रहे हैं। इतनी ठंड में रतन सिंह के द्वारा पुश-अप्स किए जाने का वीडियो सामने आने पर लोग उनके जज्बे और जोश को सलाम कर रहे हैं।

दिग्गज उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने भी इस वीडियो को अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया है। वीडियो शेयर करते हुए आनंद महिंद्रा ने लिखा कि यह एक तरह का विश्व रिकॉर्ड होना चाहिए। 55 वर्षीय—65 पुश-अप्स—17,500 फीट पर! इस वीडियो ने मुझे अपनी डेस्क से उतरने और फर्श पर आने के लिए प्रेरित किया है।

बता दें कि कमांडेंट रतन सिंह सोनल मूल रूप से उतराखंड के कुमायूं घाटी के पिथौरागढ़ के रहने वाले हैं। वे दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची चोटी माउंट मनास्लु को भी फतह कर चुके हैं। रतन सिंह सोनल ने पिछले साल 25 सितंबर को आईटीबीपी के डिप्टी कमांडेंट अनूप कुमार के साथ मनास्लु की चढ़ाई की थी। मनास्लु की ऊंचाई समुद्र तल से 8,163 मीटर यानी 26781 फुट है। 

जानें देश की सीमा की सुरक्षा करने वाली आईटीबीपी के बारे में

भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की स्थापना 24 अक्टूबर 1962 को हुई थी। आईटीबीपी लद्दाख से लेकर अरुणाचल तक लगने वाले करीब 3488 किलोमीटर लंबी भारत चीन सीमा पर तैनात रहती है। आईटीबीपी हिमालय क्षेत्र में प्राकृतिक आपदाओं और छत्तीसगढ़ में वामपंथी उग्रवाद के विरुद्ध अभियान में भी शामिल रहती है।   

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.