Delhi News: रिश्वत लेती AAP पार्षद को CBI ने रंगे हाथ दबोचा, ऐसे चल रहा था घूसखोरी का खेल


नई दिल्ली: सीबीआई ने पूर्वी दिल्ली की ‘आप’ निगम पार्षद को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। सीबीआई ने इस मामले में उस रेहड़ी वाले को भी गिरफ्तार किया, जिसके माध्यम से निगम पार्षद रिश्वत लेती थीं।

गीता रावत शाहदरा साउथ जोन के विनोद नगर वॉर्ड से पार्षद हैं। वह स्टैंडिंग कमिटी में विपक्ष की सदस्य भी रही हैं। सीबीआई को निगम पार्षद गीता रावत के खिलाफ शिकायत मिली थी कि वह 20,000 रुपये की रिश्त मांग रही हैं। डिमांड पूरी न होने पर वह तरह-तरह की धमकी देती हैं।

सीबीआई ने निगम पार्षद को रंगे हाथों पकड़ने के लिए पहले पूरी योजना तैयार की थी। पीड़ित ने सीबीआई को बताया था कि निगम पार्षद सीधे किसी से रिश्वत नहीं लेतीं। निगम पार्षद का करीबी एक रेहड़ी लगाता है। निगम पार्षद की तरफ से वही रिश्वत के पैसे लेता है। इसके बाद वह रिश्वत की रकम निगम पार्षद को सौंपता है। सीबीआई ने खास तरह का कलर लगे पैसे शिकायती को देकर उससे कहा कि वह यह पैसे रेहड़ी वाले को दे दे। शिकायती से 20,000 रुपये लेते ही सीबीआई की टीम ने उसे धर दबोचा। इसके बाद सीबीआई की टीम ने रेहड़ी वाले से रिश्वत के पैसे निगम पार्षद को देने के लिए कहा।

क्या चुनाव-चुनाव करता है, मैं खालिस्तानियों के खिलाफ लड़ूंगा बस इतना कहकर दिखाओ केजरीवाल, फिर बरसे कुमार विश्वास
सीबीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, रेहड़ी वाले ने जैसे ही रिश्वत के पैसे निगम पार्षद गीता रावत को दिए उन्होंने वह रकम लेकर अपने पास रख ली। पैसे लेते ही सीबीआई की टीम ने निगम पार्षद को गिरफ्तार कर लिया। रिश्वत लेकर निगम पार्षद को देने में मध्यस्थ की भूमिका निभाने वाले रेहड़ी वाले का नाम बिलाल है। सीबीआई का कहना है कि निगम पार्षद और रेहड़ी वाले को कोर्ट में पेश किया जाएगा। पूछताछ की जरूरत पड़ी तो सीबीआई आरोपियों का रिमांड भी मांग सकती है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.