Kamal nath challenge in jyotiraditya area 2nd visit in 20 days trying to revive the congress mpsg


भोपाल. जैन मुनि,  ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने की घोषणा कर रहे हैं, उधर पीसीसी चीफ और पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) कांग्रेस को फिर सत्ता में लाने के लिए जोर लगा रहे हैं. सिंधिया के गढ़ ग्वालियर-चंबल में कमलनाथ अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं. 20 दिन में आज वो दूसरी बार इस अंचल में हैं.

2018 के पहले तक ग्वालियर चंबल की राजनीति में दखल नहीं देने वाले कमलनाथ इन दिनों सिंधिया के गढ़ में कांग्रेस की टीम तैयार करने में जुटे हैं. ग्वालियर चंबल में कभी कांग्रेस का चेहरा रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया के दल बदल कर बीजेपी में शामिल होने के बाद कमलनाथ अब ग्वालियर चंबल पर सबसे ज्यादा फोकस करते हुए नजर आ रहे हैं.

20 दिन में दूसरा दौरा
2018 के चुनाव में कांग्रेस को इसी क्षेत्र से सबसे ज्यादा सीटें हासिल हुई थीं लेकिन उसके पीछे तत्कालीन कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया थे. लेकिन अब ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में जाने के बाद कमलनाथ के लिए इस इलाके में कांग्रेस को मजबूत करना बड़ी चुनौती है. यही कारण है कि 28 सीटों के उपचुनाव में ताबड़तोड़ चुनावी सभाएं करने वाले कमलनाथ एक बार फिर इस इलाके पर सक्रिय हो गए हैं. कमलनाथ 20 दिन के अंदर दूसरी बार ग्वालियर चंबल के दौरे पर हैं. वो आज 23 फरवरी को भिंड में कांग्रेस की जनाक्रोश रैली में शामिल हो रहे हैं. कमलनाथ संगठन को मजबूती देने के लिए मंडलम सेक्टर और ब्लॉक जिला अध्यक्षों के साथ बैठक करेंगे. साथ ही यहां जनसभा भी है. पार्टी ने उनके कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए पूरी ताकत लगा दी है.

ये भी पढ़ें- जेल से भाग सकता है अहमदाबाद सीरियल बम ब्लास्ट का मास्टर माइंड सफदर नागौरी, MP सरकार हाईअलर्ट पर

कमलनाथ ही चेहरा
पूर्व मंत्री पीसी शर्मा का कहना है कमलनाथ लगातार ग्वालियर चंबल का दौरा कर रहे हैं. वहां अब कमलनाथ ही पार्टी का चेहरा हैं. ऐसे में अब ग्वालियर चंबल में कांग्रेस और तेजी के साथ मजबूत होगी और कमलनाथ के ग्वालियर चंबल के दौरे पार्टी के लिए फायदेमंद साबित होंगे.

पार्टी में जान फूंकने और जनता में पैठ का प्रयास
ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने के बाद से कमलनाथ ने ग्वालियर चंबल इलाके में अपनी सक्रियता बढ़ा दी है. 28 सीटों के लिए हुए उपचुनाव के दौरान भी कमलनाथ ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी. उन्होंने ताबड़तोड़ दौरा कर सिंधिया के जाने के बाद निराश कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया था. कांग्रेस को वहां बिना सिंधिया के खड़ा करने की कोशिश की और अब फिर एक बार कमलनाथ ग्वालियर चंबल में सक्रिय नजर आ रहे हैं. इससे पहले उन्होंने 6 फरवरी को ग्वालियर की हजीरा सब्जी मंडी विवाद के मुद्दे पर धरना दिया था. अब आज भिंड में जनसभा कर पार्टी कार्यकर्ताओं को एकजुट कर उनका मनोबल बढ़ाने और जनता में पैठ बनाने का प्रयास करेंगे.

आपके शहर से (भोपाल)

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

Tags: Kamal nath, Madhya pradesh latest news, MPCC

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.